Categories
News

अभी अभी आयी बड़ी खबर, बन्द कियें जा रहें 2000 के नोट……..

खबरें

अब एटीएम से दो हजार के नोट नहीं मिलेंगे। रिजर्व बैंक से दो हजार के नोट मिलने फि’लहा’ल बंद हो गए हैं। बैंक भी एटी’ए’म मशीन से दो हजार के नोट वाले कै’लिब’र नि’कालने लगे हैं। से’ण्ट्रल बैं’क ऑ’फ इ’ण्डि’या ने इसकी शु’रुआ’त कर दी है। सेंट्र’ल बैंक अपने 58 ए’टी’एम मशी’न से कै’लिब’र नि’काल चुका है। अन्य बैं’कों का भी कहना है कि अब ए’टीएम में सिर्फ 100, 200 व 500 रुपये के नोट ही लो’ड किए जा रहे है।

से’ण्ट्रल बैं’क के मण्ड’ल प्रमु’ख ए’ल’बी झा कहते है कि कई महीने से आ’रबी’आ’ई से दो हजार के नोट नहीं मिले हैं। बाजार से भी शा’खाओं में दो हजार के नोट बहुत कम आ रहे हैं। ऐसी भी सूचना आ रही है कि आ’रबी’आ’ई ने दो हजार के नोट की छपा’ई बंद कर दी है। दो हजार के नोट के सं’कट को देखते हुए प’रिक्षेत्र के 58 ए’मटी’ए’म मशी’न से दो हजार की नोट के कै’लिबर ह’टा कर 500 के लगाए गए है। ताकि अधिक से अधिक नोट एटीएम में लोड किए जा सके।

यूनियन बैंक का कहना है कि ए’टीए’म मशी’न में 500, 200 व 100 के नोट भी डाले जा रहे है। आर’बी’आ’ई से दो हजार की नोट आने की उम्मीद भी नजर नहीं आ रही है। क्योंकि बीते पांच महीने से एक बार भी दो हजार के नोट के ब’ण्डल नहीं आए है। ब’ड़ौदा यूपी बैं’क के री’जन-एक के क्षेत्री’य प्र’बन्ध’क अ’खिले’श सिंह कहते हैं कि आ’रबीआई से दो हजार के नोट नहीं आने से बड़ा भु’गता’न लेने वाले खा’ताधार’कों को भी 500 रुपये व 100 रुपये के ही नोट दिए जा रहे हैं। पीएनबी के एजीएम सं’तोष कुमार यादव का कहना है कि दो हजार के नोट का सं’कट हर जगह है। शाखाओं में जमा करने के लिए आने वाली दो हजार के नोट को एटीएम में भरा नहीं जा सकता है।

शहर व ग्रामीण क्षेत्र में विभिन्न बैंकों के 512 ए’टीए’म बू’थ
ली’ड बैं’क प्रबन्धक रा’मअधा’र सो’नकर कहते है कि जनपद में वि’भिन्न बैंकों की 512 ए’टीएम मशीनें हैं। श’हरी क्षेत्र में 250 व ग्रामी’ण क्षेत्र में 262 एटीएम बूथ हैं। इनमे कै’श लोड करने की जि’म्मेदारी बैंकों की है। कुछ बैंकों ने नि’जी वे’ण्डरों को भी कै’श भरने की जिम्मेदारी दी है। आरबीआई से दो हजार के नोट बैंकों के क’रेंसी चे’स्ट में नहीं आ रही हैं। जो नोट उपलब्ध होंगे उसे ही एटीएम में लो’ड किया जाएगा।

जिले में विभिन्न बैंकों के ए’टीएम बूथ
बैंक ए’टी’एम बूथ
एस’बी’आई 220
पीएनबी 100
यूनियन बैंक 70
सेण्ट्रल बैंक 58
अन्य बैंक व निजी बैंक 64