Categories
Other

लॉकडाउन के बाद ऐसी होंगी गर्मी की छुट्टियां, जारी हुआ स्कूल-कॉलेज का शेड्यूल

देश में अब तक मरीजों की संख्या 9000 के पार पहुंच चुकी है. संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र से सामने आ रहे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अब तक देश में इसके 9152 केस सामने आ चुके हैं. वहीं 308 लोगों की इससे मौत हो चुकी है. इसमें से 765 लोगों का सफलतापूर्वक इलाज किया जा चुका है. सबसे ज्यादा मौत महाराष्ट्र में हुईं हैं. आपको बता दें ये पूरे विश्व का सबसे बड़ा लॉक डाउन हैं.

कोरोना की वजह से स्कूलों की छुट्टियां होने के चलते बच्चों की पढ़ाई का बहुत नुकसान हो रहा है। ऐसे में माना जा रहा है कि केंद्र सरकार सभी स्कूलों और इंस्टीट्यूट्स से कह सकती है कि वह पढ़ाई के दिनों के नुकसान को कम करने के लिए कुछ समय पहले ही गर्मी की छुट्टियां दे दें। यूजीसी का एक पैनल आज यानी सोमवार को मानव संसाधन मंत्रालय को हायर एजुकेशन की ऑनलाइन क्लासेस स्टार्ट करने का सुझाव देगा। सरकार के कुछ सूत्रों के अनुसार मानव संसाधन मंत्रालय राज्यों से आग्रह करेगा कि गर्मी की छुट्टियां जल्दी कर दी जाएं और लॉकडाउन खत्म होने के बाद परीक्षाएं आयोजित कराई जाएं.

अधिकारियों ने कहा कि उम्मीद है कि 1 अप्रैल से शुरू हुए लॉकडाउन को गर्मी की छुट्टियां माना जाएगा, जो मई के तीसरे हफ्ते तक जा सकती हैं, जिसके बाद पढ़ाई शुरू होगी। लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन क्लास चलेंगी और प्रैक्टिकल की क्लास लॉकडाउन के बाद होंगी। वैसे तो ऑनलाइन परीक्षाएं कराने की बात भी हो रही थी, लेकिन कई वजहों से पब्लिक यूनिवर्सिटीज ने कहा कि ऐसा नहीं हो पाएगा। हालांकि, बहुत सी प्राइवेट यूनिवर्सिटीज़ ने ऑनलाइन परीक्षाएं कराने पर विचार करते हुए उसकी तैयारी भी शुरू कर दी है.

सरकारी अधिकारियों ने बताया कि लॉकडाउन में छात्रों के घरों में रहने के दौरान इंस्टीट्यूशन्स से कहा जाएगा कि वह ऑनलाइन क्लास लें। एडमिशन भी ऑनलाइन किए जाने की बात हो रही है। प्रतियोगिता परीक्षाएं जैसे जेईई मेन और एडवांस, एनईईटी यूजी 2020 और यूजीसी-एनईटी की तारीखें पहले ही आगे बढ़ा दी गई हैं और इन्हें और भी आगे बढ़ाया जा सकता है। अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट एडमिशन शेड्यूल भी जुलाई-अगस्त 2020 तक बढ़ सकता है, वो भी तब जब लॉकडाउन मई में खत्म हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.