Categories
Other

AIMS के डॉक्टर ने कोरोना वायरस को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- जून में आयेंगे…

देशभर में कोरोना का खतरा दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है. आपको बता दें कि अब तक इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या कुल 52952 हो चुकी हैं, जिनमें से 15266 मरीज ठीक हो चुके हैं और 1783 लोग अपनी जान भी गंवा चुके हैं. वहीं देश में इस समय कोरोना के कुल 35902 मामले फिलहाल एक्टिव हैं. कोरोना वायरस को लेकर एम्स के डॉक्टर का बयान सामने आया हैं.

एम्स निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा कि जून के महीने में कोरोना वायरस के मामले सबसे ज्यादा होंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का फायदा मिला है और लॉकडाउन में कोरोना के केस ज्यादा नहीं बढ़े.  ‘जिस तरीके से ट्रेंड दिख रहा है, कोरोना के केस जून में पीक पर होंगे. हालांकि ऐसा बिल्कुल नहीं है कि बीमारी एक बार में ही खत्म हो जाएगी. हमें कोरोना के साथ जीना होगा. धीरे-धीरे कोरोना के मामलों में कमी आएगी.’डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि लॉकडाउन का फायदा मिला है. लॉकडाउन की वजह से ही मामले ज्यादा नहीं बढ़े. दूसरे देशों के मुकाबले भारत में कम मामले बढ़े हैं. अस्पतालों ने लॉकडाउन में अपनी तैयारी कर ली है.

डॉक्टर्स को प्रशिक्षण दिए गए हैं. पीपीई किट्स, वेंटिलेटर और जरूरी मेडिकल उपकरणों के इंतजाम हुए हैं. कोरोना की जांच बढ़ी है. डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि कब तक कोरोना के मामले चलेंगे, कितना लंबा यह चलेगा, यह अभी से नहीं कह सकते. लेकिन इतना जरूर है कि जब पीक पर कोई चीज होती है तो वहीं से वह डाउन होनी शुरू होती है. अब उम्मीद यही करते हैं कि जून में जब कोरोना के मामले पीक पर होंगे तो उसके बाद मामले धीरे-धीरे डाउन होना शुरू होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.