Categories
bollywood

आमिर खान का टूटा बड़ा सपना! इस एक्टर ने बजा दिया बैंड…

डेली बॉलीवुड

आमिर खान अपनी हर फि’ल्मे में कुछ न कुछ हटकर करते हैं. फिल्मे हिट भी होती हैं. लेकिन इस बार उनका सपना बुरी तरह टूट गया हैं. आ’ध्या’त्मिक गुरु ओशो रजनीश को हर कोई जानता है. बॉली’वुड भी इस मौके का लाभ उठाना चाह रहा था. करण जोहर ओशो रजनीश पर फिल्म बनाने की पूरी प्लानिंग कर चुके थे जिसमें आमिर खान और आ’लिया भट को लिया गया था. लेकिन इस फिल्म की अन्नोउंस मेन्ट के पहले ही एक्टर रवि’किशन ने आमिर खान और करण जोहर का सपना चक’नाचूर कर दिया हैं.

वेलजी भाई गाला करके एक प्रोडूसर हैं जो रविकिशन को लेकर ‘सीक्रेट्स ऑफ़ लव’ बना रहे हैं. जो आध्यात्मिक गुरु ओशो रजनीश पर आधारित होगी. कॉपीराइट के चलते इस फिल्म में ओशो रज’नीश का नाम नहीं लिया गया हैं. जो इस फिल्म को बना रहे हैं. उनका कहना हैं की.

पिछले 30 सालों से मैं ओशो का संन्या’सी हूं और मैं उनकी कहानी को लोगों तक जल्द से जल्द पहुंचाना चाहता था। काफी सोचने के बाद मुझे एह’सास हुआ की उनकी कहानी को फिल्म के जरिए लोगों तक पंहुचाया जा सकता है। इसलिए यह फैसला लिया। मैंने उनके कई प्रवचन सुने हैं, उनके बताया मेडि’टेशन किया है। उनसे जुड़ी हर छोटी चीज़ से मैं वाकिफ हूं, इसलिए फिल्म बनाने में ज्यादा दिक्क’त नहीं हुई। मेरे हिसाब से ओशो इस सदी के बे’स्ट मैन हैं और इस सदी के लोगों को उनके बारे में ज़रूर जानना चाहिए।”

रवि किशन के बारे में वे’लजी भाई कहते हैं, “इस फिल्म में हम ओशो से जुड़े तीन बड़े पड़ाव दि’खाने वाले हैं जिसके लिए तीन अलग-अलग एक्टर लिए हैं जयेश कपूर, विवेक मिश्रा और रवि किशन। जब ओशो रजनीश अमेरिका गए थे जहां उन्हें ज़हर दिया गया, उस किरदार में रवि किशन दिखेंगे। रवि को साइन करने से पहले हमने कुछ एक्टर्स के लुक टेस्ट किए थे हालांकि रवि से बेहतर ओशो के किरदार में कोई फिट नहीं बैठ पाया।”

फिल्म’कार पिछले साल ही इस फिल्म को रिलीज़ करने वाले थे हालांकि लॉक’डाउन की वजह से उनके प्लान में बदलाव आ गया। वे कहते हैं, “तक़री’बन डेढ़ साल से हम इस फिल्म पर काम कर रहे हैं। लॉक’डाउन की वजह से तक़रीबन 7 से 8 महीने बेकार चले गए। प्ला’निंग के मुता’बिक हम इसे 2020 में ही रिलीज करने वाले थे। ज्यादा’तर शूटिंग ख़’त्म हो चुकी है और अब इसे अप्रैल-मई 2021 के बीच रिलीज कर देंगे।”

अब यकीनन आमिर खान के लिए ये किसी झट’के से कम नहीं हैं. क्यूंकि जो फि’ल्म पहले आती हैं लोग उसे ही ज़्यदा पसंद करते हैं. अब जैसे सकाम १९९२ सबने देख ली तो अभिषेक बच्चन की बिग बुल देखने में शायद ही कोई इतना इंट्रे’स्ट लें.क्यूंकि बॉली’वुड तो इस वक्त बदनाम हैं. और बदनाम गलियों में कोई जाना नहीं चाहता हैं.