Categories
News

अभी अभी बीजेपी में दौड़ी परेशानी की लहर, गृहमंत्री अमित शाह कोरोना को मा’त देने के बाद फिर हुये…………

खबरें

गृह मंत्री अमित शाह को एक बार फिर एम्स में भर्ती कराया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, उन्हें सांस लेने में त’कली’फ हो रही थी जिसके बाद बाद शनिवार देर रात उन्हें अस्पताल लाया गया. हालांकि इस बारे में एम्स प्र’शास’न ने आधि’कारि’क तौर पर पुष्टि नहीं की है. एम्स सूत्रों के मुताबिक उन्हें सीएन टॉवर में रखा गया है. डॉक्टर रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनकी निगरानी में जुटी है. उनकी हालत स्थिर बताई गई है.

इससे पहले, शाह को 18 अगस्त को एम्स में भ’र्ती कराया गया था. गृहमंत्री को कोरोना के बाद देखभाल के लिए (पोस्ट कोविड केयर) एम्स में भर्ती कराया गया था. 12 दिन बाद उनको छुट्टी मिल गई थी. 2 अगस्त को शाह कोरोना संक्रमित हो गए थे. उन्होंने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी थी. इसके बाद उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 14 अगस्त को उनकी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी.  कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज किया गया था. 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तबीयत शनिवार रात फिर ग’ड़’बड़ा गई। उन्हें इसके बाद रात करीब 11 बजे नई दिल्ली स्थित AIIMS अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूत्रों के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि COVID-19 से ठीक होने के बाद से उन्हें सांस लेने में दि’क्कतें आ रही हैं।

AIIMS के एक सूत्र ने पत्रकारों से कहा, “माना जा रहा है कि वह अस्पताल में रहेंगे तो अच्छा रहेगा, क्योंकि इसके जरिए उनके स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखी जा सकेगी।” बताया जा रहा है कि शाह को एम्स अस्पताल के कार्डियो न्यूरो टावर में भर्ती कराया गया है।

शाह की तबीयत अचानक बि’गड़ी है। 11 सितंबर को ही उन्होंने अहमदाबाद जिला और शहर में ₹222.17 करोड़ के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। वह इसके पहले भी खासा एक्टिव थे।

गृह मंत्री का स्वास्थ्य ऐसे वक्त पर ख’रा’ब हुआ है, जब कुछ ही दिनों बाद बिहार में विधानसभा चुनाव हैं। भले ही वह बीजेपी चीफ हों, मगर चुनावी रणनीतियों में उनका खासा दखल रहता है।