Categories
News

चाणक्य नीति की ये 4 बातें हमेशा याद रखें, आपके हमेशा कदम चूमेगी काम’याबी

न्यूज़

Chanakya Niti : चाण’क्य नीति शा’स्त्र बेहद ही उपयो’गी ग्रंथ है। इस ग्रंथ में आचार्य चाण’क्य ने मनुष्य और समाज के कल्या’ण के लिए कई बातें बताई हैं। आचार्य चाणक्य ने सफ’लता पाने के लिए चार चीजों को बेहद ही अहम माना है। आइए जानते हैं चाण’क्य नीति के अनुसार कौन’सी चार चीजें काम’याबी के लिए जरूरी होती हैं- 

अनुशासन
चाणक्य नीति के अनु’सार, सफ’लता पाने के लिए अनु’शासन बेहद आवश्यक है। जीवन में अनुशा’सन के बिना सफ’लता नहीं मिलती है। जो व्य’क्ति जीवन में अनु’शासन और नियम के साथ रहता है सफ’लता ऐसे लोगों के कदम चूम’ती है। वहीं, जो व्यक्ति अनुशा’सन और नियम के साथ नहीं चलता उसको हमेशा हार का मुंह देख’ना पड़ता है।

सक्रियता
किसी भी क्षेत्र में सफ’लता पाने के लिए उस क्षेत्र में सक्रि’यता बनी रहनी आव’श्यक है। चाण’क्य के अनुसार, जो व्यक्ति आ’लसी होता है उसको कभी सफ’लता नहीं मिलती है। इसलिए सफ’लता के लिए सक्रियता होनी आव’श्यक है। आल’स्य इंसान का सबसे बड़ा शत्रु माना जाता है। 

जुनून
चाणक्य के अनु’सार, व्यक्ति में सफ’लता पाने के लिए जु’नून का होना बेहद जरू’री होता है। ल’क्ष्य को पाने का जुनून ही व्य’क्ति को सफ’लता के शि’खर पर पहुं’चाता है। इसलिए हमेशा अपने ल’क्ष्य को हासिल करने के लिए दिन-रात मेह’नत करनी चाहिए।

मजबूत इरादे
एक सफल व्य’क्ति वही होता है जो अपने इरा’दों का प’क्का और मेह’नती होता है। ऐसे व्य’क्ति सफल होते हैं। परंतु इसके विप’रीत जो लोग आज के काम को कल पर टालते हैं, ऐसे लोगों के पास धन कभी नहीं आता है। 

विनम्रता
चाण’क्य नीति के अनुसार, विनम्र स्व’भाव के व्यक्ति जल्दी सफ’लता हासिल करते हैं। दरअ’सल, व्यक्ति का दूसरों के साथ कैसा ब’र्ताव है, यह भी उसकी सफ’लता को तय करता है। ऐसे में व्य’क्ति को व्य’वहार को लेकर बड़ा ही सतर्क और स’जग रहना चाहिए।