Categories
Other

अगर बैंक में हैं एक से ज्यादा खातें तो हो जाएं सावधान,नहीं तो उठाना पड़ सकता हैं भारी नुक्सान

जैसा की आप सब जानते हैं की आज के वक़्त बैंक में खाता खुलवाना हम सभी के लिए एक बहुत बड़ी जरूरत हैं , और बिना बैंक के खाते के आप कैश लेनदेन के अलावा किसी तरह का कोई ट्रांजेक्शन भी नहीं कर सकते हैं। बैंक में खाता होना इस समय सबकी मौलिक जरूरतों में शामिल हो चुका है। अब अगर आपके एक से ज्यादा बैंक खाते हैं जिससे आपको कहीं घाटा भी उठाना पड़ सकता हैं। आज हम आपको बैंक खातों से कुछ ख़ास और ज़रूरी जानकारी देने जा रहे हैं ताकि आने वाली परिस्तिथी के बारे में आपको मालूम रहे ।

केंद्र की मोदी सरकार ने अपने पहले ही कार्यकाल में जनधन योजना के तहत करोड़ों लोगों के लिए खाते खुलवाए और उन लोगों तक भी बैंकिंग सुविधा पहुंचाई जिनके पास बैंक की कोई सुविधा नहीं थी। हालांकि एक से ज्यादा खाते खोलने में कोई दिक्कत की बात तो नहीं है और इस बात की इजाजत सभी को है पर हम सबको यह भी सोचना चाहिए की हमे अपनी ज़रुरत के हिसाब से किसी भी राज्य में बैंक खाते रखने चाहिए ।

ऐसा कोई खाता है जो इस्तेमाल नहीं करते हैं तो क्या करना चाहिए

अगर आपने किसी बैंक में कई खाते खोल रखे हैं और कोई बैंक खाता ऐसा है जिसका आप इस्तेमाल नहीं करते हैं तो इसे बंद करना ही ठीक आप्शन रहेगा। ऐसा इसलिए हैं कि अब बैंक खाते में जो मिनिमम बैलेंस की रकम है वो काफी बढ़ चुकी है और हर एक खाते में आपको अच्छी-खासी रकम कम बैलेंस के रूप में रखनी होती है।

जब आप अकाउंट बंद कराएं तो ये ज़रूर ध्यान रखें कि इससे जुड़े बिमा, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड आदि को भी उसी समय बंद करा दें जिससे आपको आगे चलकर कोई भी परेशानी न हो।

सैलरी अकाउंट
सैलरी अकाउंट हर एक एंप्लाई के लिए जरूरी होता है, जिसमें उसकी सैलरी आती है। हालांकि अगर आपके पास ऐसा खाता है जो की पहले सैलरी अकाउंट था और अब उसमें तीन महीने से सैलरी नहीं आ रही है तो वो सेविंग खाते में बदल जाता है। बता दें कि सेविंग खाते के लिए और सैलरी खाते के लिए नियम अलग होते हैं।

इनकम टैक्स से जुड़े नियम
अब इनकम टैक्स भरते समय आपको अपने हर एक खाते की जानकारी देनी होती है और इसमें साल भर मिले हुए ब्याज का लेखा-जोका देना पड़ता हैं ।

लोन लेते समय भी ना काम आने वाले खातों से होती है दिक्कत
अगर आप होम लोन लेने जाते हैं और उस समय लोन के लिए सिबिल स्कोर भी देखा जाता है और अगर कोई ऐसा खाता है जिसका आप उपयोग नहीं करते हैं तो उसकी भी जानकारी आपको देनी ही होगी। अगर आपने उसमें बैलेंस मेनटेन नहीं कर रखा है, तो उससे भी आपको लोने लेने के क्राइटेरिया पर असर पड़ सकता है, और इसके अलावा लोन लेते समय एक से अधिक खाते होने पर आपको सभी बैंकों का स्टेटमेंट भी लगाना होता हैं ।

कैसे बंद कर सकते हैं गैरजरूरी खातों को
आपको खुद बैंक जाकर अकाउंट क्लोजर फॉर्म भरना होगा और इसी के साथ कहीं- कहीं डी-लिंकिंग फॉर्म भी भरना पड़ सकता है। इसी के साथ आपको खाता बंद करने की वजह भी बतानी होगी और इसी फॉर्म में दूसरे खाते की जानकारी देनी होगी जिसमें आप बंद होने वाले खाते का पैसा ट्रांसफर करवाना चाहते हैं, और अगर खाता ज्वाइंट है तो अकाउंट क्लोजर फॉर्म पर दोनों खाताधारकों के सिग्नेचर होने जरूरी हैं।

अकाउंट क्लोजिंग चार्ज के बारे में
अगर आप खाता खालने के 14 दिन के भीतर अगर खाता बंद कराते हैं , तो बैंक कोई चार्ज नहीं लेगा लेकिन एक साल से पहले खाता बंद कराने पर अकाउंट क्लोजिंग चार्ज भी देना पड़ता है।

कितना पैसा मिल सकता हैं कैश में

अगर आपके खाते में 20,000 रुपये से ज्यादा भी हैं, तो भी आपको बैंक से खाता बंद करते समय कैश के रूप में 20 हजार रुपये ही मिल सकते हैं। इससे ऊपर की राशि आपको उस खाते में ट्रांसफर होकर मिलेगी ।




Leave a Reply

Your email address will not be published.