Categories
News

बैं’क ने ब’दले अप’ने नि’यम: ग्रा’हकों को ल’गा त’गड़ा झ’टका, अ’गर आ’पके अ’काउंट में है पै’से, तो हो जा’एंगे….

हिंदी खबर

नई दि’ल्ली: इ’स भा’गती दु’निया में आ’जकल ल’गभग ह’र इंसा’न का बैं’क में अका’उंट हो’ता है। तो ऐ’से में आ’पके लि’ए इ’स जान’कारी को जान’ना बहु’त ज’रूरी है। दरअ’सल अ’गले म’हीने से बैं’क के क’ई सा’रे निय’म बद’लने वा’ले है। अ’च्छा क्या आ’पको ए’क बा’त प’ता है कि आ’पका बैं’क आ’पसे क’ई ची’जों प’र पै’से वसूल’ता है? अग’र न’हीं। ब’ता दें, एस’एमएस(SMS) की सुवि’धा, मिनि’मम बै’लेंस, ए’टीएम व चे’क के उप’योग क’रने त’क में बैं’क आप’से पै’से चा’र्ज कर’ता है।

ग्राह’कों को अ’लग से चा’र्ज दे’ना हो’गा

ऐ’से में बैं’क अ’ब ग्रा’हकों को बैं’कों में अ’पना पै’सा ज’मा क’रने औ’र निका’सी के लि’ए भी चा’र्ज दे’ने प’ड़ते हैं। इस’की शुरु’आत बैं’क ऑ’फ ब’ड़ौदा ने क’र दी है। सा’थ ही बैं’क ऑ’फ इंडि’या, पी’एनबी, ए’क्सिस औ’र सें’ट्रल बैं’क भी इ’स प’र ज’ल्द से ज’ल्द फैस’ला ले’ने वा’ले हैं। व’हीं अग’ले म’हीने से या’नी नवं’बर 2020 से त’य सी’मा से ज्या’दा बैंकिं’ग क’रने प’र ग्राह’कों को अ’लग से चा’र्ज दे’ना हो’गा।

ब’ता दें, बैं’क ऑ’फ ब’ड़ौदा ने चा’लू खा’ते, कै’श क्रे’डिट लि’मिट औ’र ओ’वरड्राफ्ट खा’ते से पै’से ज’मा औ’र निका’लने के अल’ग व बच’त खा’ते से ज’मा-निका’सी के अ’लग-अल’ग शु’ल्क नि’र्धारित कि’ए हैं। इस’के अला’वा अ’गले मही’ने से ग्रा’हक लो’न खा’ते के लि’ए म’हीने में ती’न बा’र के बा’द जि’तनी बा’र भी पै’सा नि’कालेंगे, उ’न्हें 150 रु’पये दे’ने हों’गे।

रक’म ज’मा क’रने प’र शु’ल्क

बैं’क ग्रा’हकों के बच’त खा’ते को दे’खें तो ऐ’से खा’ताधारकों के लि’ए ती’न बा’र त’क ज’मा कर’ना फ्री हो’गा, लेकि’न अग’र ग्राह’कों ने चौ’थी बा’र पै’से ज’मा कि’ए, तो उ’न्हें 40 रुप’ये दे’ने हों’गे। औ’र सि’र्फ व’रिष्ठ नागरि’कों के लि’ए भी बैं’कों ने को’ई रा’हत न’हीं दी है। व’हीं जन’धन खाता’धारकों को इ’समें थो’ड़ी राह’त मि’ली है। इ’स खाता’धारक को रक’म ज’मा क’रने प’र को’ई शु’ल्क न’हीं दे’ना हो’गा, लेकि’न निका’लने प’र 100 रुप’ये दे’ना हों’गे।

ऐ’से में सी’सी, चा’लू व ओ’वरड्रा’फ्ट खाता’धारक य’दि प्रति’दिन ए’क ला’ख रुप’ये त’क की रा’शि ज’मा कर’ते हैं, तो य’ह सु’विधा नि’शुल्क हो’गी। लेकि’न इस’से ज्या’दा पै’से ज’मा क’रने प’र बैं’क आप’से पै’से या’नी चा’र्ज वसू’लेंगे।

बैं’क खाता’धारकों के ए’क ला’ख से ज्या’दा ज’मा क’रने प’र 1000 रुप’ये प’र ए’क रुप’ये चा’र्ज दे’ना हो’गा। इ’सके लि’ए न्यून’तम व अधि’कतम सी’मा क्रम’श: 50 रु’पये औ’र 20 हजा’र रुप’ये है।

व’हीं य’दि सी’सी, चा’लू व ओव’रड्राफ्ट खा’तों से ए’क मही’ने में ती’न बा’र पै’से नि’काले जा’ते हैं, तो ग्राह’कों से को’ई शु’ल्क न’हीं वसू’ला जाए’गा। औ’र चौ’थी बा’र निका’सी प’र प्रत्ये’क वि’ड्रॉल प’र 150 रु’पये का शु’ल्क ल’गेगा।