Categories
breaking news

सावधान : बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए, पांच राज्य सरकारों ने लगाये प्रतिबंध इन राज्यों में राज्य सरकारों ने कुछ शहरों में लॉकडाउन, कर्फ्यू लगा दिया है…

 बढ़ते कोरोना (COVID-19) मामलों को देखते हुए, पांच राज्य सरकारों ने नए प्रतिबंध लगाए हैं. इन राज्यों में बाहर से आने वाले लोगों का बॉर्डर और हवाई अड्डे पर कोरोना टेस्ट किया जाएगा. हाल ही में महाराष्ट्र और राजस्थान में  कोरोना वायरस (COVID-19) बढ़ते मामलों के चलते इन दोनों राज्यों में राज्य सरकारों ने कुछ शहरों में लॉकडाउन, कर्फ्यू लगा दिया है.

राजस्थान और महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और गुजरात ने ‘हाई-रिस्क’ स्टेट महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग के निर्देशित दिए हैं. महाराष्ट्र में पिछले 15 दिनों में कोरोना मामलों में काफी उछाल दर्ज किया गया है. वहीं राजस्थान सरकार ने जोधपुर में 21 मार्च तक धारा 144 लगा दी है. महाराष्ट्र ने अमरावती, मुंबई, नागपुर, पुणे, पिंपरी चिंचवाड़, नासिक, औरंगाबाद, ठाणे, नवी मुंबई, कल्याण-डोंबिवली, अकोला, यवतमाल, वाशिम और बुलढाणा में सख्ती के निर्देश दिए हैं.

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार ने लोगों को कोरोनो वायरस प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं. मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंश बनाए रखना अनिवार्य है. महाराष्ट्र में सभी धार्मिक, सामाजिक और राजनीतिक समारोहों को प्रतिबंधित लगाया गया है. राजनीतिक कार्यक्रमों में भीड़ जुटाने की मनाही है. मध्य प्रदेश और गुजरात ने महाराष्ट्र के आस-पास के सभी जिलों में हाई अलर्ट जारी किया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, कुल सक्रिय मामले बढ़ने के पीछे महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, पंजाब और मध्य प्रदेश में तेजी से फैल रहा संक्रमण बड़ी वजह है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महाराष्ट्र, केरल, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब, हरियाणा में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर अधिकारियों को अलर्ट पर रहने को कहा है. उत्तर प्रदेश जल्द ही इन राज्यों से उत्तर प्रदेश में आने वालों के लिए अलग से दिशानिर्देश जारी कर सकता है. ‘रेड जोन’ से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट और आइसोशलेन अनिवार्य किए जाने के निर्देश जारी किए जा सकते हैं. स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ डीएस नेगी ने कहा, ‘कोरोना के मामलों में उत्तर प्रदेश में गिरावट आई है, लेकिन सभी जिलों में स्थिति की निगरानी की जा रही है. अन्य राज्यों के सीमावर्ती इलाकों में ज्यादा सतर्कता बरती जा रही है. राज्य सरकार रोजाना 1.25 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट कर रही है.’ उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने कहा है कि अधिकारियों को शिवरात्रि और होली सहित आने वाले त्योहारों के मद्देनजर सतर्क रहने के लिए कहा गया है. लोगों से कहा गया है कि वे सोशल डिस्टेंस का पालन जरूर करें. मास्क पहनें और नियमित रूप से हाथ धोएं. कोरोना प्रोटोकॉल के पालन में कोई ढिलाई नहीं बरतें.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में बीते 24 घंटों में 10,584 नए मामले दर्ज हुए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि अब देश में मामलों की कुल संख्या 1,10,16,434 हो गई है. वहीं 78 मौतों के बाद मरने वालों की संख्या 1,56,463 हो गई है. देश में पिछले एक महीने से मरने वालों की संख्या 200 और मामलों की संख्या 15 हजार के पार नहीं गई है. ऐसी संभावना है कि बीच के कुछ दिनों में मामलों की संख्या बढ़ने के पीछे का कारण वायरस का म्यूटेशन या नए वैरिएंट हैं. इससे पहले 22 फरवरी सोमवार को कोरोनावायरस के 14,199 मामले सामने आए थे. वहीं 21 फरवरी को 14,264 मामले और 20 फरवरी को 13,993 मामले दर्ज हुए थे.