Categories
Other

भारत के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, इतनी हज़ार फीट ऊंचाई पर चीन की सीमा तक सड़क बनकर हुई तैयार

भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार शुक्रवार( 8 मई) सुबह 8 बजे तक भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) के मामले बढ़कर 56,342 पहुंच गए। इनमें से 37,916 मरीजों का इलाज जारी है। 16,540 लोग ठीक हो गए हैं। 1886 लोगों की मौत हो गई है। भारत के हाथ लगी बड़ी कामयाबी, इतनी हज़ार फीट ऊंचाई पर चीन की सीमा तक सड़क बनकर हुई तैयार.

कैलाश-मानसरोवर यात्रा मार्ग के रूप में प्रसिद्ध धारचूला से लिपुलेख (चीन सीमा) तक बीआरओ द्वारा निर्मित सड़क राष्ट्र को समर्पित हो गई है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सड़क का उद्घाटन करते हुए कहा कि चीन सीमा तक सड़क बनने से देश मजबूत हुआ है. बीआरओ ने 80 किलोमीटर की इस सड़क से धारचूला को लिपुलेख से जोड़ा है. यह विस्तार 6000 से 17060 फीट की ऊंचाई पर है.

जनपद पिथौरागढ़ के तहसील धारचूला के ब्यास घाटी के उच्च हिमालयी क्षेत्र के इस सड़क का निर्माण कार्य बीआरओ द्वारा पूरा किया गया है. 2003 में बीआरओ को इस सड़क के निर्माण का जिम्मा सौंपा गया था. यहां की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के कारण निर्माण कार्य अब पूरा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.