Categories
News

अभी अभी यादव परिवार टूटा दु’:खों का प’हाड़, दि’ग्गज ने’ता धर्मेन्द्र यादव का हुया नि’धन😭….

खबरें

बीजेपी नेता धर्मेंद्र प्रसाद यादव के निधन पर भाजपा में शो’क की ल’हर दौ’र गई है. मंगलवार को उन्हें पार्टी के प्रदेश कार्यालय में श्र’द्धांज’लि दी गई. भा’जपा के रा’ष्ट्रीय म’हामंत्री एवं बिहा’र प्र’भारी भूपेंद्र यादव ने म’सौढ़ी के पूर्व वि’धाय’क और स’हकारि’ता आं’दोल’न से लंबे समय तक जुड़े रहे और वर्त’मान में भा’जपा ने’ता ध’र्मेंद्र प्र’साद या’दव के नि’ध’न पर शो’क संवे’दना प्रकट की है. उन्होंने कहा कि धर्मेंद्र प्र’साद यादव एक क’र्मठ, सं’घर्षशी’ल श’ख्सिय’त थे.

केंद्रीय गृह रा’ज्य मंत्री नि’त्या’नंद राय ने शो’क ज’ताते हुए कहा कि ध’र्मेंद्र की गि’नती आ’त्मीयता के साथ सबसे मि’लने-जु’लने वाले और स’हज स्व’भाव के ने’ताओं में होती थी. वे सामाजिक और राज’नीति’क तौ’र पर जन’ता के बीच लगा’तार स’क्रिय रहने वाले ने’ता थे. उनके शो’क सं’तप्त परिवार के साथ इस दु’ख की घड़ी में ख’ड़ा हूं. ई’श्वर उनकी आ’त्म को शां’ति प्रदान करे. वहीं बि’हार भा’जपा के प्र’देश अ’ध्यक्ष डॉ संज’य ज’यसवा’ल ने धर्मेंद्र यादव को भा’जपा का एक सम’र्पित नेता बताते हुए क’हा कि प’टना जि’ले की रा’जनीति में उनकी स’क्रियता और भा’गीदा’री बहुत म’हत्वपूर्ण थी. भा’जपा को उनकी क’मी ह’मेशा ख’ले’गी.

पा’टलिपु’त्र के सां’सद रा’मकृ’पाल या’दव और पूर्व विधान परि’षद स’दस्य डॉ प्रो’फे’सर नव’ल कि’शोर यादव ने ध’र्मेंद्र प्रसा’द को याद करते हुए कहा कि बि’हार में जब मि’ल्क को’ऑ’परेटिव की शु’रुआत हुई थी तो ध’र्मेंद्र जी ने उसमें म’हत्वपूर्ण भू’मिका नि’भाई थी। सह’कारि’ता क्रां’ति के ज’नक मा’ने जाने वाले वर्गीज कुरियन के काफी करीबी माने जाते थे। पूर्व वि’धायक सह प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, संजय टाइगर, प्रवक्ता अखिलेश सिंह, विवेकानंद पासवान, और निखिल आनंद ने धर्मेंद्र जी को कृषि-पशुपालन एवं स’हकारि’ता से जु’ड़ा ज’नोन्मुखी व्यक्ति बताते हुए कहा कि पटना डेयरी प्रो’जेक्ट का संचालन जब ने’शन’ल डे’यरी डे’वलपमें’ट बो’र्ड के जि’म्मे आया तो व’र्गीज कु’रियन ने इ’नकी का’र्यक्षम’ता और ल’गनशील’ता को देखते हुए उसके सं’चा’लन की जि’म्मेदा’री ध’र्मेंद्र यादव को

ध’र्मेंद्र प्र’साद ने प’टना डे’यरी प्रो’जेक्ट का ब’तौर अ’ध्यक्ष 18 सालों तक स’फल सं’चाल’न किया। बाद में वे म’सौ’ढ़ी से वि’धाय’क चुने गए। बाद में उनका क्षेत्र अनु’सूचि’त जा’ति के लिए आ’र’क्षित हो ग’या था। पिछले 5-6 वर्षों में ध’र्मेंद्र भाज’पा से जुड़े हुए थे और संगठन के विस्तार में अ’हम भू’मिका निभा रहे थे। बि’हार भा’जपा प्रदेश मु’ख्यालय में धर्मेंद्र प्रसाद जी का पार्थिव शरीर लाया गया जहां उ’पस्थित नेताओं ने पु’ष्पांजली कर उन्हें भा’वभी’नी श्र’द्धांजलि दी।