Categories
Other

लगातार 7 दिनों तक खा लें ये छोटी सी चीज़,कमज़ोर से भी कमज़ोर शरीर बन जाएगा ताकतवर

आजकल आये दिन मौसम बहुत बदलता ही जा रहा हैं. इस बदलते मौसम के साथ हमारे शरीर में भी कई तरह के बदलाव भी आने लगते हैं. हमारे बॉडी में इम्यून सिस्टम की पॉवर कम होने लगती हैं. ऐसे में हमे अपना विशेष ध्यान रखना पड़ता हैं. आज हम आपको एक ऐसे ड्राईफ्रूट के बारे में जिसे सिर्फ 7 दिन लगातार खा लेने से इस बदलते मौसम में आपको फ़ायदा होगा.

दरअसल, हम बात कर रहे है किशमिश की .आपको बता दें, की हम लोगों ने अक्सर हरे रंग की किशमिश खायी होगी. लेकिन क्या अप लोगों ने कभी काली किशमिश के बारे में सुना हैं? शायद आप में कई लोग इसके बारे में नहीं जानते होंगे तो आयिए आपको इस काली किशमिश कि खूबियां बताते हैं.

ये काली किशमिश कैंसर की बीमारी को ठीक करने में बहुत ज्यादा सहायक होती हैं. बता दें,  इन सूखे अंगूरों में “फेनोलिक यौगिक” पाया जाता है, जो कोलन कैंसर सेल्स से लड़ने में मदद करती हैं।

ये काली किशमिश पाचन तंत्र के लिए भी बेहद लाभदायक होती हैं. काले किशमिश में फाइबर भरपूर मात्रा में होने के कारण यह कब्ज होने की संभावना को काफी कम कर देता हैं.

काली किशमिश को ओरल हेल्थ के लिए काफी अच्छे माने गए हैं। एक रिसर्च के मुताबिक़, किशमिश में एंटीमाइक्रोबियल यौगिक जैसे ओलीनोलिक एसिड, ओलीनोलिक एल्डिहाइड, लिनोलिक एसिड और लिनोलेनिक एसिड होते हैं। जो आपकी ओरल हेल्थ का ख्याल रखते हैं और आपको कैविटी और मसूड़ों से जुड़ी बीमारियों से बचाते हैं.

कई लोगों को एनीमिया जैसी गंभीर बीमारी होने के कारण से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं. एनीमिया से पीड़ित लोगों को आयरन का भरपूर आहार लेना चाहिए। ऐसे में काली किशमिश का सेवन भी आपके बहुत ही फायदेमंद होगा. इसमें मौजूद आयरन कई अन्य आयरन से समृद्ध फलों और सब्जियों की तुलना में बहुत पाए जाते हैं.

काली किशमिश हृदय रोगों से लड़ने में भी काफी मददगार साबित होती हैं. काली किशमिश में पाए जाने वाला अंथों क्योनिन्स तत्व शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेन्ट जिसका गहरा बैगनी रंग दिल के रोगों से लड़ने में मदद करता हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.