Categories
Other

भारतीय सीमा पर ड्रैगन की हालत खराब: तड़प-तड़प कर म’र रहे ची’नी सै’निक, ये है बड़ी वजह..

खबरें

ल’द्दाख में भा’रत और ची’न के बीच त’नाव पर च’रम है। दोनों देशों ने ए’लएसी पर सै’निकों की भा’री तै’नाती की है। बीते दिनों ख’बर आई थी कि ची’न ने ल’द्दाख में सीमा पर 60 हजार सै’निकों की तै’नाती की है। भा’रत ने ड्रै’गन को ज’वाब देने की पूरी तै’यारी कर रखी है। इस बी’च अब ल’द्दा’ख में भी’षण ठं’ड शु’रू हो गई है।

ठं’ड़ की शु’रुआत होते ही ची’नी से’ना की हा’ल’त ख’रा’ब हो गई है। पैंगो:ग झी’ल के उ’त्‍तरी क‍ि’नारे पर ची’नी से’ना को अपने सै’निकों की ज’न’हा’नि का नु’कसान हुआ है। पिछले ह’फ्ते एक ची’नी सै’निक की मौ’त हो गई थी जिसके वहां नि’कालकर ले जाते देखा गया।

इस क्षेत्र में जमाने वाली ठं’ड पड़’नी शुरू हो गई है। ची’नी सै’निक ठं’ड को ब’र्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। ठंड से ह’ताहत होने वाले सै’नि’कों की संख्‍या बढ़ती जा रही है। ची’न ने पैं’गोग झी’ल से सटी 15 हजार से 16 ह’जार फु’ट ऊं’चाई पर स्थित चो’टियों पर 5 ह’जार सै’निकों को तै’ना”त किया है।

ची’न ने दावा किया था कि उसने ठं’ड से निपटने के लिए अ’त्‍याधु’नि’क बै’रक बना’या है। इस बै’रक में ह’मेशा ता’प’मान ग’र’म’ रहेगा। इसके साथ ही बताया था कि इसमें ची’नी सै’निक इसमें नहा भी स’क’ते हैं। ची’नी मी’डिया ने भी दा’वा किया था कि ची’नी से’ना ने पहली बार अपने ल’द्दाख से स’टे ति’ब्‍बत के नागरी इ’लाके में भा’री तो’पें तै’नात की हैं।