Categories
धर्म

Chanakya Niti: इन माम’लों में कभी न करें जल्द’बाजी, उठाना पड़ सकता है भारी नुक’सान

धार्मिक न्यूज़

चाण’क्य एक श्रेष्ठ वि’द्वान होने के साथ एक अच्छे शिक्ष’क भी थे। उन्होंने विश्वप्र’सिद्ध तक्ष’शिला से शिक्षा ग्रहण की और वहीं पर विद्या’र्थियों को शिक्षा भी दी। इसके साथ ही चाण’क्य एक कुश’ल अर्थशा’स्त्री और समाज’शास्त्री भी थे। कई विष’यों पर उनकी अच्छी पकड़ थी। उन्होंने अपने  जी’वन में अच्छी और बुरी दोनों तरह की परि’स्थियों का सामना किया था। चाण’क्य ने अपने ज्ञान और अनु’भव  के आधार पर नीति’शास्त्र में अपने अन’मोल विचारों को पिरो’या है। चाण’क्य नीति की शि’क्षाएं आज भी मनुष्य को जीवन में बहुत मह’त्व रखती हैं। चाण’क्य ने कुछ ऐसे कार्यों के बारे में बता’या है जिन्हें करते हुए कभी  जल्द’बाजी नहीं करनी चाहिए। अन्य’था आपको अप’यश और नुक’सान उठाना पड़ सकता है। तो चलिए जानते हैं किन कामों में बिल’कुल नहीं करना चाहिए जल्द’बाजी….

आचार्य चाणक्य

व्यापार के मामले में न करें जल्द’बाजी
चाण’क्य कहते हैं कि व्या’पार में कोई भी नि’र्णय हमेशा सोच-सम’झकर ही करना चाहिए। क्यों’कि किसी भी व्यक्ति के लिए उसका व्या’पार ही एक तरह से सारी जमा पूंजी होता है, क्योंकि किसी भी व्या’पार को बढ़ाने में व्य’क्ति को वर्षों लग जाते हैं, और व्या’पार के मामलें में जल्द’बाजी में किया गया निर्णय व्यक्ति के पूरे कारो’बार को नुक’सान पहुंचा सकता है। इस’लिए हर बिंदु का आक’लन करके सोच विचार करने के पश्चा’त ही निर्णय लेना चाहिए।

Chanakya Success Mantra

नए रिश्ते बनाते समय न करें जल्द’बाजी
चाण’क्य कहते हैं कि व्य’क्ति को कभी भी नए रि’श्तें बनाते समय जल्द’बाजी नहीं करना चाहिए। रिश्तों का हमारे जीवन में बहुत महत्व’पूर्ण स्थान होता है, लेकिन किसी के साथ नई-नई मित्रता करते समय और नए रि’श्ते बनाते समय जल्द’बाजी करना आपके लिए नुकसा’न’दायक साबित हो सकता है। यह आपको मान’सिक तनाव और अप’यश दे सकते हैं।

आचार्य चाणक्य

धन के मामले में निर्णय लेते समय कभी न करें जल्द’बाजी धन के लेन-देन में कभी जल्द’बाजी नहीं करनी चाहिए। अन्य’था आपको नुक’सान उठाना पड़ सकता है। किसी को धन देते हुए या निवे’श करते समय हमेशा सोच-समझ कर नि’र्णय करें।