Categories
News

Children’s Day 2020: हर किसी के लिए जानना है जरु’री बाल दिवस से जुड़ा ये बड़ा सच

डेली न्यूज़

 शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Bal Divas: देश के पहले प्रधा’नमंत्री पंडित जवाह’रलाल नेहरू के जन्म’दिवस 14 नवम्बर को पूरे देश में बाल दि’वस के रूप में मनाया जाता है। पं. नेहरू बच्चों से बेहद प्यार करते थे। बच्चे भी प्यार से उन्हें चाचा नेहरू कह कर बु’लाते थे। पं. नेहरू जा’नते थे कि जिस देश के बच्चे स्व’स्थ, शिक्षित और चरित्र’वान होंगे, जिस देश में उनका शोष’ण नहीं किया जाएगा, वही देश उन्न’ति कर सकता है। वह सभी बच्चों का स’मग्र विकास और उनको शि’क्षा के प्रति जाग’रूक करना चाहते थे।

4th of November 2020: पं. नेहरू मानते थे कि बच्चों के द्वारा ही देश का भविष्य उज्ज्व’ल बनाया जा सकता है। बच्चे किसी भी राष्ट्र के भावी निर्माता होते हैं। वे बड़े होकर वि’भिन्न पदों पर आसीन होते हैं, इसके लिए उन्हें उचित मार्गद’र्शन की जरूरत होती है।

Childrens Day in india: इस’को मनाने का उद्दे’श्य बच्चों के अधि’कारों की रक्षा करना और उन्हें मूल’भूत सुवि’धाएं उपल’ब्ध करवाना, उन्हें सही शिक्षा, पोषण, संस्कार मिलें, यह सुनि’श्चित करवाना है।

हमारे देश में बाल शो’षण और बाल मज’दूरी को देखते हुए इस दिन का मह’त्व और भी बढ़ जाता है ताकि हम इस दिन यह प्रण ले सकें कि ब’च्चों के प्रति होने वाले हर शोष’ण को ख’त्म किया जा सके।

सभी विद्या’लयों में बाल दिवस पर आयो’जित वि’भिन्न कार्यक्रमों में विभिन्न प्रतियो’गिताओं का आयोजन किया जाता है, जैसे नृत्य, संगीत, चित्रकला, कहानी,लेखन इत्यादि। बाल दिवस पर बच्चों को उनके अधि’कारों और कर्त’व्यों के बारे में भी बताया जाता है।

PunjabKesari Children’s Day 2020

What day is childrens day celebrated in india: बाकी विश्व में हर साल 20 नवम्बर को बाल दिवस मनाया जाता है। 1959 से पहले बाल दिवस अक्तू’बर महीने में मनाया जाता था। सर्वप्र’थम बाल दिवस जिनेवा के इंटरनै’शनल यूनि’यन फॉर चाइ’ल्ड वैल्फे’यर के सहयोग से विश्व’भर में अक्तूबर 1953 को मनाया गया था।

How do we celebrate childrens day: वास्तव में यह दिन बच्चों के बीच जानका’रियों के आदान-प्रदान और आपसी समझ’दारी विकसित करने के साथ-साथ उनके कल्याण से जुड़ी ला’भार्थी योज’नाओं के उद्देश्य से शुरू किया गया था।

1959 में जिस दिन संयु’क्त राष्ट्र की महा’सभा ने बच्चों के अधिकारों के घोष’णापत्र को मान्यता दी थी, उसी दिन के उप’लक्ष्य में 20 नव’म्बर को चुना गया। इसी दिन 1989 में बच्चों के अधि’कारों के समझौते पर हस्ता:क्षर किए गए, जिसे 191 देशों द्वारा पा’रित किया गया।

विश्व’भर में बाल दिवस मनाने का विचार दिवं’गत श्री वी.के. कृष्णा मेनन का था, जिसे संयु’क्त राष्ट्र की महा’सभा द्वारा 1954 में अप’नाया गया।