Categories
News

Kiss क’रते व’क़्त लड़’के र’हें साव’धान, श’रीर के इ’स पा’र्ट को लड़कि’यां क’म कर’ती हैं सा’फ…

हिंदी खबर

श’रीर को सा’फ़-सुथ’रा ह’र को’ई रख’ना चाह’ता है. प’र कु’छ लो’गों को शरी’र की सा’फ़-सफा’ई से ज्या’दा मत’लब न’हीं हो’ता. व’ह हाइ’जीन के माम’ले में बहु’त पी’छे हो’ते हैं. अक्स’र पुअ’र हाइ’जीन की आ’दत लड़’कों में ही देख’ने को मिल’ती है. लेकि’न लड़’कों की सो’च लड़’कियों को ले’कर बिल’कुल अल’ग हो’ती है. व’ह य’ह सो’चते हैं कि उन’की गर्ल’फ्रेंड बहु’त नी’ट औ’र क्ली’न है. लड़’कों का य’ह भी मा’नना है कि सा’फ़-सफा’ई के माम’ले में लड़’कियां ज्या’दा आ’गे हो’ती हैं. इस’लिए लड़’के अप’नी गर्लफ्रें’ड से मि’लते व’क़्त अ’पनी सा’फ़-स’फाई का खा’सा ध्या’न र’खते हैं. वै’से भी लड़’कियों को सा’फ़-सफा’ई के माम’ले में लड़’कों से आ’गे मा’ना जा’ता है. व’ह इ’से ले’कर बहु’त स’ख्त हो’ती हैं. व’ह कम’रे से ले’कर खु’द की स’फाई ब’हुत अ’च्छे त’रीके से क’रती हैं. उन’के हा’थ के ने’ल्स से लेक’र उन’के बा’ल एक’दम पर’फेक्ट हो’ते हैं. प’र क्या आ’प जा’नते हैं सा’फ़-सफा’ई प’संद कर’ने वा’ली लड़कि’यां अ’पनी बॉ’डी का ए’क हि’स्सा ब’हुत क’म सा’फ़ क’रती हैं? क्या आ’प जा’नते हैं उ’स बॉ’डी पा’र्ट के बा’रे में? शा’यद न’हीं, तो च’लिए ह’म आ’पको बता’ते हैं.

ह’म शरी’र के जि’स हि’स्से की बा’त क’र र’हे हैं व’ह है गर्द’न का पिछ’ला हि’स्सा. जी हां, गर्द’न के पि’छले हि’स्से की स’फाई लड़’कियां बहु’त क’म क’रती हैं. ज’ब उ’न्हें कि’सी स्पेश’ल इवें’ट में जा’ना हो’ता है या ज’ब व’ह अ’पने पार्ट’नर से मि’ल र’ही हो’ती हैं त’भी व’ह इ’स हि’स्से को सा’फ़ कर’ती हैं. अस’ल में लड़’कियां अप’ने बा’ल अक्स’र खु’ले र’खती हैं जि’ससे ग’र्दन का पिछ’ला हि’स्सा छु’प जा’ता है. व’ह सो’चती हैं कि गर्द’न का य’ह हि’स्सा तो दि’खता न’हीं औ’र पा’र्टनर भी कि’स ग’ले के सा’इड में ही क’रते हैं इसलि’ए व’ह इ’स पा’र्ट की सफा’ई कर’ना ज्या’दा ज़’रूरी न’हीं सम’झतीं.