Categories
News

हिन्दू देवी देवताओं का मज़ाक उड़ाना इस मशहूर कॉमे’डियन को पड़ गया भारी! पुलिस ने…..

डेली न्यूज़

हिन्दू देवी-देवताओं का मज़ाक उडाना स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारुखी को भारी पड़ गया है. इंदौर की एक स्थानीय अदालत ने मुनव्वर और उसके 5 साथियों की जमानत याचिका खारिज करते हुए 13 जनवरी तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया. मुन्नवर फारुखी के खिलाफ स्थानीय विधायक मालिनी गौर के बेटे एकलव्य सिंह गौर द्वारा मामला दर्ज कराया गया था. गिरफ्तार किए गए अन्य लोगों में एड्विन एंथनी, प्रखर व्यास, प्रियम व्यास और नलिन यादव शामिल हैं.

मामला दरअसल ये है कि शुक्रवार 1 जनवरी को नए साल के अवसर पर इंदौर के 56 दुकान क्षेत्र के एक कैफे में स्टैंडअप कॉमेडी शो का आयोजन किया गया था. इस कार्यक्रम में स्थानीय विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के बेटे एकलव्य सिंह गौड़ अपने साथियों के साथ बतौर दर्शक पहुंचे थे. इस शो में हिन्दू देवी-देवताओं पर कुछ ऐसी टिप्पणियाँ की गई जो उन्हें पसंद नहीं आई. एकलव्य सिंह ने उसका विरोध किया और कार्यक्रम को रुकवा दिया. साथ ही शो के वीडियो फुटेज के साथ पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी. जिसके बाद पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. मुख्य आरोपी मुनव्वर फारुखी गुजरात के जूनागढ़ का रहने वाला है.

जैसा की हमेशा होता आया है, अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने वाले पर जब कार्रवाई होती है तो उसे बचाने लिबरल और वामपंथी गैंग एक्टिव हो जाते हैं. इस बार भी ऐसा ही हुआ. इस्लामिक कट्टरता पर मौन धारण कर लेने वाला लिबरल गैंग मुनव्वर फारुखी की गिरफ़्तारी के बाद सोशल मीडिया पर ज्ञान देने लगा, सहिष्णुता का पाठ पढ़ाने लगा. ट्विटर पर भी मुनव्वर फारुखी ट्रेंड हो रहा है और लोग कह रहे हैं कि अगर किसी ने इस्लाम के ऊपर कुछ कहा होता तो उसका वही अंजाम होता जो फ़्रांस में टीचर का हुआ और शर्लो एब्दो मैगजीन का हुआ.