Categories
Other

कोरोना वायरस को लेकर वैज्ञानिकों ने दी बड़ी चेतावनी, कहा- पूरी दुनिया…

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का खतरा बना हुआ हैं. सबसे ताकतवर देश भी इस वायरस का कोई इलाज खोज नहीं पा रहे है. अधिकतर सभी देश लॉकडाउन हो चुके हैं. भारत में भी कोरोना वायरस के मामले दिन पर दिन बढ़ते ही जा रहे है. आपको बता दें कि अब तक भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 3378 हो चुकी है. कोरोना को लेकर वैज्ञानिक ने बड़ी चेतावनी दी जिसे जानकर आप इस महामारी के भयंकर रूप को जान सकते हैं. तो आइये आपको बताते हैं क्या कहा हैं.

अमेरिका के शीर्ष वैज्ञानिक ने चेतावनी दी है कि कोरोना वायरस धीरे-धीरे मौसमी बीमारी का रूप धारण कर सकता है. अमेरिका में संक्रामक बीमारियों के विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फाउची ने कहा है कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस पर नियंत्रण नामुमकिन नजर आ रहा है. नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ में संक्रामक बीमारियों के एक्सपर्ट्स डॉ. एंथनी फाउची ने कहा, इस साल पूरी पृथ्वी से वायरस को उखाड़ फेंकना असंभव सा है. इसका मतलब है कि अमेरिका में अगले फ्लू सीजन में कोरोना वायरस का संक्रमण फिर से पैर पसार सकता है.

फाउची ने कहा कि कोरोना के लौटने की संभावना की वजह से ही अमेरिका अपनी तैयारी को तेजी से मजबूत कर रहा है. उन्होंने कहा कि अमेरिका वैक्सीन विकसित करने और तमाम ट्रीटमेंट को लेकर क्लीनिकल ट्रायल करा रहा है.फाउची ने कहा, अगर कोरोना फिर से उभरता है तो हमारे पास तब कम से कम इसे रोकने के उपाय तो होंगे. फाउची ने इससे पहले कहा था कि अमेरिका कोरोना वायरस की वैक्सीन 12 से 18 महीनों के भीतर तैयार कर लेगा.

डॉ. फाउची ने दावा किया है कि अमेरिका में कोरोना वायरस से एक लाख से ज्यादा मौतें हो सकती हैं.उन्होंने आगाह किया कि जो राज्य लोगों के लिए घरों में रहने के लिए आदेश जारी नहीं कर रहे हैं, वे देश से ज्यादा खुद को इस खतरे में डाल रहे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, फिलहाल कोरोना वायरस के लिए 40 वैक्सीन का परीक्षण किया जा रहा है. इनमें से कई वैक्सीन इंसानों में परीक्षण के चरण में पहुंच चुकी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.