Categories
News

Good News: AIIMS ने दी बड़ी खुश’खबरी, इस वजह से नहीं पड़ेगी भारत में कोरो’ना वैक्सी’न की जरू’रत

डेली न्यूज़

covid-19 vaccine in india: देश इस वक्त वैश्विक महा’मारी कोरोना’वायरस (Coronavirus) के प्रको’प जूझ रहा है। भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना’वायरस के 44,879 नए मामले सामने आए, जि’सके बाद कुल मामलों की सं’ख्या 87,28,795 हो गई।

नई दिल्ली। देश इस वक्त वैश्वि’क महा’मारी कोरोना’वायरस (Coronavirus) के प्र’कोप जूझ रहा है। भार’त में पिछले 24 घंटों में कोरोना’वायरस के 44,879 नए मा’मले सामने आए, जिस’के बाद कुल मामलों की सं’ख्या 87,28,795 हो गई। देश में इसी दौ’रान कोविड-19 से 547 लोगों की मौत हुई, जिसके बाद कुल मौ’तों का आं’कड़ा 1,28,688 हो गया। कोविड-19 के लगा’तार बढ़ते प्र’कोप के बीच लोगों की नजर को’रोना वैक्सीन पर टिकी है। बता दें कि कोरो’ना की वैक्सीन को आने में अभी भी करीब 6 मही’ने का समय लग सकता है। ले’किन इन सबके बीच इंडि’यन इंस्टी’ट्यूट ऑफ मेडि’कल साइं’सेज (AIIMS) के निदे’शक डॉ’क्टर रणदीप गुले’रिया (Randeep Guleria) ने लोगों को राहत देने वाली खबर दी है।

दरअ’सल डॉक्टर रण’दीप गुले’रिया के मुता’बिक संभव है कि भा’रत को कोरोना वैक्सीन की जरू’रत भी नहीं पड़ेगी। गु’लेरिया ने आगे कहा है कि को’राना के बढ़ते प्रको’प के बाद हम हर्ड इम्यु’निटी (Herd Immunity) की स्थि’ति में आ जाएंगे। उस स’मय हमें वैक्सी’न की भी जरू’रत नहीं पड़ेगी। लेकिन डॉक्टर गुले’रिया ने यह भी संभा’वना जताई कि अगर वाय’रस म्यू’टेट नहीं होता है और इ’समें कोई बद’लाव नहीं आता है तो लोग वैक्सी’न लगाने के बारे में सोच सकते हैं। बता दें कि भारत में कोरो’ना महा’मारी लगा’तार बढ़ता जा रहा है लेकिन उन’का ये बयान देशवा’सियों के लिए एक बड़ी खुश’खबरी के तौर पर देखा जा सकता है।

गुले’रिया ने कहा कि कोरो’ना वाय’रस में कैसे परि’वर्तन आता है और लोगों को दुबा’रा संक्र’मित कर सकता है या नहीं। अभी जांच ही कर रहे हैं कि आने वाले कुछ मही’नों में वाय’रस कैसे व्यव’हार करेगा और उसी के आधा’र पर कोई फैसला लिया जा सकता है कि कि’तनी जल्दी-जल्दी वै’क्सीन लगाने की जरूरत पड़ेगी।