Categories
News

तुरंत संक्र’मित होने पर मात्र 30 सेकं’ड्स में मारा जा सकता है कोरोना वायरस, करें ये काम

डेली न्यूड

अगर आपको लगता है कि आप को’रोना संक्र’मित व्य’क्ति के सं’पर्क में आ गए हैं तो सबसे पहला काम आप’को यह करना है कि मुंह के अंदर के सला’इवा (लार) को निगलें नहीं बल्कि थूक दें और तुरंत माउथ’वॉश करें…

 ऐसा किसी के भी साथ हो स’कता है कि कोई जाने अनजाने किसी कोरोना संक्र’मित व्यक्ति के संप’र्क में आ जाए। यदि आपको किसी व्य’क्ति के ल’क्षणों के आधार पर उसके कोरोना संक्र’मित होने का शक हो तो आप तुरंत माउथ’वॉश करके खुद को सुर’क्षित कर सकते हैं। ऐसा हाल ही एक रिस’र्च में साबित हुआ है कि मा’र्केट में मिलनेवाले माउथ’वॉश का यदि समय पर उप’योग कर लिया जाए तो कोरोना को मुंह के अंदर ही मात्र 30 सेकंड्स में ख’त्म किया जा सकता है।

कोरोना पेशं’ट्स पर की जा रही अपनी रिस’र्च में यूना’इडेट किंगडम के वेल्स स्थित यूनिव’र्सिटी हॉस्पि’टल (University Hospital of Wales)के डॉक्टर्स की टीम ने यह पाया है कि यदि एक स्व’स्थ व्यक्ति किसी कोरोना संक्र’मित व्यक्ति के संपर्क में आ जाए और कोरोना वाय’रस उसके मुंह में प्रवेश कर जाए तो इस वाय’रस को माउथ’वॉश के जरिए तुरंत ख’त्म किया जा सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि आप अपने मुंह में स्थि’त लार को निगले नहीं ब’ल्कि थूक दें और तुरंत माउथ’वॉश का उपयो’ग कर लें। 

mouthwash-3

माउथ’वॉश से मुंह में खत्म करें कोरोना संक्र’मण


शोध से जुड़े वैज्ञा’निकों का कहना है कि माउथ’वॉश के जरिए कोरोना को तभी तक खत्म किया जा सकता है, जब तक कि वह मुंह के अंदर सलाइवा में उपस्थित है। यदि व्यक्ति इस सलाइवा को निगल लेता है और कोरोना वायरस उसके श्वसनतंत्र में प्रवेश कर जाता है तो फिर माउथवॉश का उस पर कैसा असर होता है, इस बारे में अभी पुख्ता रूप से कुछ नहीं कहा जा सकता। लेकिन यह बात साफ है कि उस स्थिति में माउथवॉश कोरोना पर बहुत अधिक प्रभावी नहीं होगा क्योंकि यह मुंह तक ही सीमित रहता है। 

इस रि’सर्च से यह बात तो साफ है कि हाथों को सैनिटा’इज करने के साथ ही यदि टाइम-टाइम पर माउथ’वॉश किया जाए तो कोरोना के संक्र’मण की संभा’वना को और अधिक कम किया जा सकता है। आप’को ध्यान दिला दें कोरोना वायरस को निष्प्र’भावी करने के लिए आयुर्वे’दिक डॉक्ट’र्स भी बार-बार गर्म पानी का से’वन करने की सलाह दे रहे हैं। दिन में एक बार काढ़ा पीना भी इसी सु’झाव का हिस्सा है।

mouthwash-2


माउथवॉश में होनी चाहिए यह खूबी
-शोध से जुड़े वैज्ञा’निकों का कहना है कि कोरोना को मुंह में ही ख’त्म करने के लिए जरूरी है कि आप जिस माउथ’वॉश का उप’योग कर रहे हैं, उसमें कम से कम 0.07% सेटाइपि’राइ’डनियम क्लो’राइड (cetypyridinium chloride-CPC) होना चाहिए। पिछले दिनों हुए एक और शो’ध में यह बात सामने आई थी की CPC आधारित माउथवॉश वाय’रस लोड को कम करते हैं। 

हालां’कि इन स्टडीज पर अभी अन्य वैज्ञा’निकों की राय और उनकी समी’क्षा का इंतजार है। लेकिन लैब में यही बात सा’बित हुई है कि मुंह स’फाई और मसूड़ों की सेहत को ध्या’न में रखते हुए जो माउथ’वॉश उपयोग किए जाते हैं, वे मुंह के अंदर कोरोना वा’यरस को खत्म करने में प्रभा’वी साबित हो सकते हैं।