Categories
Other

अपनी जन्म तारीख से जानिए आपकी लव मैरिज होगी या अरेंज मैरिज!

दोस्तों हर कोई अपनी शादी को लेकर कई तरह के सपने देखते हैं. सबके मन में अपने होने वाले लाइफ पार्टनर के बारे में जानने की जिज्ञासा रहती है. और साथ हीं हर कोई ये बात भी जानना चाहता है कि लव मैरिज होगी या फिर अरेंज मैरिज.आज हम आपको बता रहे हैं एस्ट्रोलॉजी के अनुसार न्यूमेरोलॉजी या अंक ज्योतिष के आधार पर किस तरह हम इस बात की जानकारी ले सकते हैं कि हमारी शादी अरेंज होने वाली है या फिर लव.अंक ज्योतिष में हमारे जन्म की तारीख के अंकों को जोड़कर मूलांक निकाला जाता है जैसे की अगर आपका जन्म किसी भी महीने की 29 तारीख को हुआ है तो 2+9=11 और 1+1=2, मतलब की 29 तारीख को जन्म लेने वाले व्यक्ति का मूलांक 2 होगा.

मूलांक – 1 सूर्य का नंबर माना जाता है मूलांक 1. न्यूमरोलॉजी की माने तो एक मूलांक वाले व्यक्ति बहुत शर्मीले स्वभाव के होते हैं. 1 मूलांक वाले लोग प्यार के लिए कभी भी पहल नहीं कर पाते. हालांकि ये प्यार तो अवश्य करते हैं, लेकिन शर्मीले स्वभाव के होने की वजह से इनका लव मैरिज होना असंभव रहता है. अरेंज मैरिज कर हीं ऐसे लोग अपना हर बसाते हैं. मूलांक – 2 ज्योतिष विज्ञान में मूलांक 2 को चंद्रमा का अंक माना गया है. ऐसे लोगों को बहुत हीं धीरे-धीरे प्यार होता है. लेकिन ये अपने प्यार को लेकर काफी इमोशनल होते हैं. और जब ये किसी से प्यार कर बैठते हैं, तो लव मैरिज हीं करते हैं.

मूलांक – 3 गुरु का अंक माना गया है मूलांक 3. ऐसे व्यक्ति ज्यादातर लव मैरिज करने में सफल रहते हैं. अपने प्यार को पाने के लिए इन्हें किसी की मदद की आवश्यकता पड़ती है. इनका वैवाहिक जीवन काफी सफल होता है. मूलांक – 4 राहु का अंक माना जाता है मूलांक 4. ऐसे लोग एक से ज्यादा लोगों से प्यार करते हैं. इस कारण ये लोग कभी भी लव मैरिज के प्रति गंभीर नहीं हो पाते. इसलिए इनकी लव मैरिज की संभावना कम ही होती है.

मूलांक – 5 मूलांक 5 को बुध का अंक माना गया है. 5 अंक वाले पारंपरिक तरीके से रिश्ते निभाने में विश्वास करते हैं. इन लोगों की ज्यादातर शादियां परिवार की सहमति से हीं होती है. इनकी कुंडली में सफल वैवाहिक जीवन और लव मैरिज के काफी अच्छे योग होते हैं.मूलांक – 6 मुलांक 6 को शुक्र का अंक माना गया है. ऐसे लोग प्रेम विवाह करने के लिए ही बने हैं. मूलांक 6 वाले लोग भी एक से ज्यादा लोगों के प्यार में रहते हैं. इसलिए कई बार सही इंसान को खो भी बैठते हैं. 80 फ़ीसदी से ज्यादा 6 मूलांक वाले लोग लव मैरिज हीं करते हैं.

मूलांक – 7 मुलांक 7 को केतु का अंक माना गया है. ऐसे लोग काफी संकुचित स्वभाव के रहते हैं. मूलांक 7 वाले लोग प्रेम विवाह करना चाहते हैं, लेकिन प्रेम में भी इनका लाभ और हानि के बारे में सोचना इनके लिए नुकसानदायक होता है.मूलांक – 8 मुलांक 8 को शनि का अंक माना गया है. ऐसे लोग बहुत कम हीं प्यार करते हैं. लेकिन जब एक बार इनको प्यार हो जाता है, तो अंत तक उसे निभाते हैं.मूलांक – 9 मूलांक 9 को मंगल का अंक माना गया है. 9 अंक वाले लोग अपनी जिंदगी में किसी भी तरह का कोई विवाद नहीं चाहते हैं. इस कारण से इनका भी प्रेम विवाह हो पाना मुश्किल ही होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.