Categories
Other

देहरादून के अस्पताल में हंगामा कर रहे तबलीगी जमाती, खा रहे 25-25 रोटियाँ

भारत में कोरोना वायरस के मरीज़ दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। हर दिन कोरोना के के नए मामले सामने आ रहे हैं।दिल्ली में तबलिगी जमात के बाद देश में कोरोना के मरीज़ों की संख्या में तेज़ी आयी है। संक्रमित तबलिगी जमातियों को देश के अलग अलग हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। इन लोगों ने हॉस्पिटल में स्टाफ़ के नाक में दम कर रखा है। हर दिन किसी न किसी हॉस्पिटल से इन लोगों की बदसलूकी की ख़बर आती रहती है।

देहरादून के दून हॉस्पिटल में जमातियों को भर्ती कराए गए लेकिन इन्होंने यहां भी उत्पात की स्थितियां बना रखी हैं। अस्पताल में भर्ती जमाती डॉक्टरों से अलग-अलग मांग कर रहे हैं। आलम ये है कि भर्ती हुए जमाती ज्यादा खाने की मांग कर रहे हैं जबकि सामान्यत: अस्पताल के मेन्यू में मरीजों के लिए चार रोटी, सब्जी के साथ दाल होती है।


सूत्रों के अनुसार, दून हॉस्पिटल में तबलीगी जमात के धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले कुल 28 लोग भर्ती हैं। इनमें से पांच लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इन मरीजों में से कुछ की बदतमीज़ी से डॉक्टर समेत सारे मेडिकल स्टाफ परेशान हैं। कुछ जमाती खाने और चाय की बेवजह मांग करके डॉक्टरों को तंग कर रहे हैं।


चिकित्सकों का कहना है कि अस्पताल में भर्ती एक कोरोना पॉजिटिव जमाती ने बीते दिनों अस्पताल के वॉर्ड में थूकना शुरू कर दिया था। बाद में किसी तरह अस्पताल के स्वास्थ्यकर्मियों ने उसे समझा-बुझाकर शांत कराया। हॉस्पिटल के स्टाफ़ का कहना है कि हर रोज कोई ना कोई जमाती चाय कप की बजाय बड़े गिलास में देने या किसी अन्य डिश की मांग को लेकर चिकित्सकों से उलझ रहा है। ऐसे में इलाज की मुश्किलों के बीच अस्पताल में चिकित्सकों के लिए इन जमातियों की मांग पूरा करना मुसीबत का सबब बन गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.