Categories
धर्म

Dhanteras 2020: धनते’रस पर बर्तनों को भूल कर भी खाली ना रखें, जरूर करे ये उपाय

धार्मिक समाचार

धनते’रस के दिन से ही दि’वाली यानि सुख और समृ’द्धि देने वाला पर्व शु’रु हो जाता है। कार्ति’क मास की त्रयो’दशी तिथि को धनते’रस का त्यो’हार मनाया जाता है। यह त्यो’हार संप’न्नता के साथ आरो’ग्यता भी प्रदान करता है। इस दिन देव’ताओं को चिकि’त्सक धनवं’तरी देव की पू’जा की जाती है। धर्म ग्रंथो में मिलने वाली पौरा’णिक कथा’ओं के अनुसार सुमद्र’मंथन के समय धनत्रयो’दशी के दिन भगवान धनवं’तरी अमृ’त कल’श लेकर प्रकट हुए थे। इस दिन नई ची’जों और बर्तन ख’रीद कर लाने की परं’परा है। जानते हैं कि किस धातु के ब’र्तन खरी’दना सबसे शुभ माना जाता है और किन चीजों को बर्त’नों में भरने से बनी रहती है संप’न्नता…

दीपा’वली पर हम सभी माता ल’क्ष्मी की प्रस’न्नता के लिए उन’की पूजा-अर्च’ना करते है और उनसे सुख-समृ’द्धि का आशी’र्वाद मांगते हैं। देवी ल’क्ष्मी की कृपा आपके ऊपर पूरे साल बनी रहे इसके लिए इस दीपा’वली पर आप कुछ उपा’यों को करें। इस’से मां लक्ष्मी भी प्रस’न्न होंगी और आपके जीव’न में धन की कमी नहीं रहेगी।