Categories
News

मुंबई में कोरोना के चलते आ सकती है डायबिटीज मरीजों की सुनामी, डॉक्टरों का कहना- कोरोना के…..

डेली न्यूज़

मुंबई (Mumbai diabetes patients)और महा’राष्ट्र में डायबि’टीज मरीजों (diabetes cases in maharashtra may rise ) की सुनामी आने की संभाव’ना डॉक्ट’रों ने जताई है। को’रोना जब अपने चरम पर था तब कई भ’र्ती होने वाले मरी’जों का शुगर लेवल 400 अं’कों के भी ऊपर था।

हाइलाइट्स:

  • मुंबई के आ सकती है डाय’बिटीज मरीजों की सुना’मी
  • को’रोना का सबसे विप’रीत प्रभाव डायबि’टीज मरी’जों पर पड़ा
  • डॉक्ट’रों के मुता’बिक डायबि’टीज मरीजों को फिल’हाल विशेष ध्यान रखने की जरू’रत
  • कोरोना कॉल में बढ़े डायबि’टीज के मरीज

मुंबई
महाराष्ट्र में कोरोना (maharashtra corona update) का असर अभी भी जारी है। अभी भी कोरोना संक्र’मितों के मामले आ रहे हैं। हालां’कि एक्टि’व केसेस (corona active cases) में काफी गिरावट भी दर्ज की गई है। वर्ल्ड डायबि’टीज़ डे (world diabetes day ) पर डॉक्टरों ने बताया कि कोरोना का सबसे बुरा प्रभा’व उन मरी’जों पर पड़ सकता है जिन्हें डाय’बिटीज की शिका’यत है। ऐसे मरी’जों को विशे’ष ध्यान रखने की जरूरत है।

लॉकडाउन में डायबिटीज पेशेंट्स को हुई काफी दिक्कत
लॉक’डाउन के दौरा’न कई सारे मरी’जों को काफी दिक्क’तों का साम’ना करना पड़ा। कई मरी’ज डॉक्ट’रों के पास भी निय’मित जांच कर’वाने भी नहीं जा पाए। बहुत सारे लोग पार्क में जाकर एक्सर’साइज नहीं कर पाए। जिससे उन’का शुगर ले’वल मेंटेन रहे। महा’राष्ट्र स्टेट टास्क फोर्स के डॉ’क्टर शशांक जोशी ने बताया कि को’रोना के दौरान जब सब कुछ बंद था। तब डायबि’टीज के मरीज को’रोना काल में अपने खान’पान पर भी पर्या’प्त नियं’त्रण नहीं रख सके।

लॉकडाउन में बढ़ा मरीजों का शुगर लेवल
कोरो’ना महामारी की वजह से भारत में डायबि’टीज मरीजों में खासा परिव’र्तन देखने को मिला इंपै’क्ट इंडि’या कैंपेन के आंक’ड़ों पर अगर ध्यान दें तो यह पता चलता है कि HbA1c का ग्राफ लॉक’डाउन में बढ़ा है। जब’कि यह नवंबर 2018 से निरं’तर घट रहा था। पूरे भारत में जुला’ई और सिंतबर के क्वार्ट’रली HbA1c का प्रति’शत 8.5 रहा है।जबकि नवं’बर 2018 में यह 8.6 प्रति’शत था और लगा’तार घट रहा था। डॉक्ट’रों की माने तो इस लॉक’डाउन की वजह से डायबि’टीज और हाई ब्लड शुगर ले’वल वाले मरीजों की सु’नामी आ सकती है।

मुंबई में बढ़ा HbA1c का प्रतिशत
मुंबई में भी HbA1c (एक अपरोक्ष डायबिटीज सूच’कांक ) में बढ़ो’तरी हुई है। जुलाई- सिंतबर के दौरान यह 8.2 प्रतिशत दर्ज किया गया था। यह साल 2019 के अप्रैल और जून मही’ने के दौरान 8.1 प्रतिशत था। जब मार्च में भारत में कोरोना आया तब डॉक्ट’रों ने यह पाया कि कई मरी’जों का शुगर लेवल काफी बढ़ा हुआ था। मुंबई में जब कोविड19 अपने चरम पर था। तब मुंबई में मरी’जों का शुगर लेवल 400 के भी ऊ’पर था।