Categories
Other

जानिए शरीर के अलग-अलग अंगों के फड़कने का क्या होता है मतलब

जानिए शरीर के अलग-अलग अंगों के फड़कने का क्या होता है मतलब. दोस्तों ज्योतिष के एक ग्रन्थ समुद्र शास्त्र में शरीर के अंगों के फड़कने के अर्थों का विस्तारपूर्वक वर्णन किया गया है. समुद्र शास्त्र के अनुसार इंसान का शरीर बेहद संवेदनशील होता है और उसके पास ऐसी ताकत है जो होने वाली घटना को पहले ही भांप ले हो सकता है दोस्तों आपको यकीन नहीं होगा लेकिन समुद्र शास्त्र की सहायता से आप इंसान के फड़कते हुए अंगों को जानकर उसके साथ भविष्य में होने वाली घटना को जान सकते हैं।

1. समुद्र शास्त्र के अनुसार पुरुष के शरीर का अगर बायां भाग फड़कता है तो भविष्य में उसे कोई दुखद घटना झेलनी पड़ सकती है. वहीं अगर उसके शरीर के दाएं भाग में हलचल रहती है तो उसे जल्द ही कोई बड़ी खुशखबरी सुनने को मिल सकती है. जबकि महिलाओं के मामले में ये उलटा है, यानि उनके बाएं हिस्से के फड़कने में खुशखबरी और दाएं हिस्से के फड़कने पर बुरी खबर सुनाई दे सकती है।

2. आपको बता दें कि अगर किसी व्यक्ति के माथे पर अगर हलचल होती है तो उसे भौतिक सुखों की प्राप्ति होती है वहीं कनपटी के पास फड़कन पर धन लाभ होता है।

3. दोस्तों अगर व्यक्ति की दाईं आंख फड़कती है तो ये इस बात का संकेत है कि उसकी सारी इच्छाएं पूरी होने वाली हैं और अगर उसकी बाईं आंख में हलचल रहती है तो उसे जल्द ही कोई अच्छी खबर मिल सकती है. लेकिन दोस्तों आपको बता दें अगर दाईं आंख बहुत देर या कुछ दिनों तक फड़कती है तो ये लंबी बीमारी की तरफ इशारा करता है।

4. अगर दोस्तों आपके दोनों गाल एक साथ फड़कते हैं तो इससे धन लाभ की संभावना बढ़ जाती है।

5. साथ ही अगर किसी इंसान के होंठ फड़क रहे है तो इसका अर्थ है उसके जीवन में नया दोस्त आने वाला है।

6. अगर आपका दाया कन्धा फड़कता है तो ये इस बात का संकेत है कि आपको अत्याधिक धन लाभ होने वाला है. वहीं बाएं कंधे के फड़कने का संबंध जल्द ही मिलने वाली सफलता से है. परंतु अगर आपके दोनों कंधे एक साथ फड़कते हैं तो दोस्तों ये किसी के साथ आपकी बड़ी लड़ाई को दर्शाता है।

7. अगर आपकी हथेली में हलचल होती है तो ये इस बात की ओर इशारा करता है कि आप जल्द ही किसी बड़ी समस्या में घिरने वाले हैं और अगर अंगुलियां फड़कती है तो दोस्तों ये इशारा करता है कि किसी पुराने दोस्त से आपकी मुलाकात होने वाली है।

8. अगर आपकी दाई कोहनी फड़कती है तो यह इस बात की तरफ इशारा करता है कि भविष्य में आपकी किसी से साथ बड़ी लड़ाई होने वाली है. लेकिन दोस्तों अगर बाईं कोहनी में फड़कन होती है तो ये बताता है कि समाज में आपकी प्रतिष्ठा और ओहदा बढ़ने वाला है।

9. वहीं पीठ के फड़कने का अर्थ है कि आपको बहुत बड़ी समस्याओं को झेलना पड़ सकता है।

10. दाई जांघ फड़कती है तो दोस्तों ये इस बात को दर्शाता है कि आपको शर्मिंदगी का सामना करना पड़ेगा और बाईं जांघ के फड़कने का संबंध धन लाभ से है।

11. दाई पैर के तलवे के फड़कने का संबंध सामाजिक प्रतिष्ठा में हानि से और बाएं पैर के फड़कने का अर्थ निकट भविष्य में यात्रा से है।

12. अगर आपको अपनी भौहों के बीच हलचल महसूस होती है तो ये इस बात की तरफ इशारा करता है कि निकट भविष्य में आपको सुखदायक और खुशहाल जीवन मिलने वाला है. इसके अलावा ये इस बात का भी संकेतक है कि आप जिस भी क्षेत्र में काम कर रहे हैं आपको उसमें अनापेक्षित सफलता मिलने वाली है।

13. गले का फड़कना भी एक अच्छा संकेत है क्योंकि ये आपके लिए खुशहाली, सम्मान और आराम लाने वाला है।

14. अगर किसी व्यक्ति की कमर का सीधा हिस्सा फड़कता है तो ये इस बात का संकेत है कि भविष्य में धन लाभ की संभावनाएं हैं।

15. दोस्तों आपको बता दें कि संपूर्ण मस्तक का फड़कना दूर स्थान की यात्रा का संकेत समझना चाहिए तथा मार्ग में परशोनियां भी आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.