Categories
Other

दिल्ली दंगे में गैर-जिम्मेदार तरीके से रिपोर्टिंग करने पर सरकार ने इन 2 बड़े चैनलों को किया बैन

आपको बता दें उत्तर पूर्वी दिल्ली में भ’ड़’की हिं’सा में म’र’ने वालों की संख्या बढ़कर 53 हो गई है. गुरुवार को अस्पताल में कुछ और लोगों की चोटों की वजह से मौ’त हो गई. आपको बता दें इसमें 200 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं. दं’गे दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जाते हैं. जिसके वजह से सरकार ने सारे मीडिया से गुज़ारिश की थी कि वो कोई ऐसा काम ना करे जिससे दं’गे बढ़ने की संभावना हो. लेकिन इन 2 चैनलों की लापरवाही सामने आई हैं. आइये आपको बताते हैं पूरी बात.

बता दें कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने पिछले महीने दिल्ली में हुई हिं’सा के दौरान सभी निजी सेटेलाइट टीवी चैनलों को परामर्श जारी कर उनसे हिंसा फैलाने या राष्ट्रविरोधी दृष्टिकोण को बढ़ावा देने वाली सामग्री के प्रति सावधानी बतरने को कहा था। मंत्रालय ने शुक्रवार को केरल से प्रसारित होने वाले दो चैनलों को गाइडलाइन्स के उल्लंघन का दोषी पाया.  ये दो चैनल –मीडिया वन और एशियानेट न्यूज टीवी हैं.

मंत्रालय ने देशभर में किसी भी प्लेटफार्म से दोनों चैनलों के प्रसारण एवं पुनर्प्रसारण पर छह मार्च शाम साढ़े सात बजे से आठ मार्च शाम साढ़े सात बजे तक के लिए रोक लगा दी है। दोनों चैनलों को जारी आदेशों में रिपोर्टिंग का जिक्र किया गया है जो नियमों के खिलाफ हैं और जब स्थिति काफी संवेदनशील है, ऐसे में इस तरह की रिपोर्टिंग देश भर में साम्प्रदायिक विद्वेष को बढ़ा सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.