Categories
News

से’क्स के दौरान होता है दर्द तो ये हो सकते हैं कारण, आज ही हो जाएं सावधान!

खबर

से’क्स के दौरान होने वाले दर्द (Pain) के कई का’रण हो सकते हैं. यह शरीर में पानी की कमी के कारण हो सकता है या किसी इन्फे’क्शन (Infection) का परि’णाम हो सकता है. महिलाओं और पुरुषों में दर्द के अलग-अलग कार’ण हो सकते हैं.

से’क्स के दौरान इन्सान आनंद की अनु’भूति करता है, लेकिन कई बार अचा’नक उठने वाला दर्द (Pain) मजा बिगाड़ देता है. से’क्स के दौरान होने वाले दर्द के कई कारण हो सकते हैं. यह शरीर में पानी की कमी के कारण हो सकता है या किसी इन्फे’क्शन (Infection) का परिणाम हो सकता है. महिलाओं और पुरुषों में दर्द के अलग-अलग कारण हो सकते हैं. से’क्स के दौरान होने वाले इस दर्द को डॉ’क्टरी भाषा में डिस्परे’यूनिया कहा जाता है. यदि से’क्स के दौरान पेट या गुप्तां’गों के आस’पास दर्द हो रहा है तो इसकी जड़ तक पहुं’चना जरूरी है.

द जर्नल ऑफ पैन में प्रका’शित रिपोर्ट के अनुसार, से’क्स के दौरान दर्द की शिका’यत महि’लाओं में अधिक होती है. इसका कारण है शारी’रिक बनावट. महिलाओं  के जन’नांग अधिक जटिल होते हैं.महि’लाओं को कई कारणों से से’क्स के बाद दर्द’नाक ऐंठन का अनु’भव होता है, जैसे से’क्स के दौरान लिं’ग का अ’धिक अंदर तक जाना, अंडा’षय में गठा’न या अल्स’र, गर्भा’शय फाइ’ब्रॉ:एड, एंडो’मेट्रियो’सिस, सूजन, ओव्यू’लेशन. वहीं पुरु’षों में से’क्स के बाद दर्द का एक मात्र कारण प्रो’स्टेट ग्रंथि में सूजन होती है.

से’क्स के दौरान या बाद दर्द होने के सा’मान्य कारण

से’क्स भी एक तरह की एक्सर’साइज है. इस एक्स’रसा’इज को ज्यादा देर तक करने से शरीर थक सकता है और दर्द मह’सूस कर सकता है. इस दौरान मांसपे’शियों में खिंचाव आम है. इस तरह के दर्द अपने आप ठीक हो जाते हैं, लेकिन यदि बार-बार ऐसा होता है तो डॉ’क्टर को दिखाना चाहिए.

डिहाइ’ड्रेशन या पाचन संबंधी सम’स्याएं दर्द का कारण बन सकती हैं. खाने के ठीक बाद से’क्स न करें. वहीं ध्यान रखें कि शरीर में पानी की कमी न हो. जिन लोगों का पाचन ठीक नहीं रहता है, उनके लिए सेक्स के दौ’रान दर्द आम होता है.

कई बार मूत्र मार्ग में इन्फे’क्शन होता है और इसका पता से’क्स के दौ’रान होने वाले दर्द से चलता है. इस इन्फे’क्श’न को यूटीआई यानी यूरि’नरी ट्रैक्ट इन्फे’क्शन कहा जाता है. यदि ऐसा है तो से’क्स करने से पहले यूटीआई का इलाज करवा लें.

से’क्सु’अली ट्रांस’मिटेड डिसीज यानी एसटीडी के कारण भी दर्द महसूस होता है. से’क्स करने, ओरल से’क्स करने और एक-दूसरे के अंगों को छूने से भी यौन संचा’रित संक्र’मण (एसटीआई) हो सकता है. सुर’क्षित यौन संबं’धन बना’कर एसटीडी से बचा जा सकता है.

कभी-कभी, से’क्स से जुड़े पिछले अनु’भव भी दर्द का कारण बनते हैं. यहां तक कि हर रोज तनाव और चिंता, शारी’रिक सं’बंध बनाते समय मांसपे’शियों के तनाव या ऐंठन का कारण बन सकती है.

महिला’ओं में से’क्स के दौरान योनि का सूखा’पन दर्द का कारण बनता है. रजो’नि’वृत्ति या प्रसव के बाद यह समस्या अधिक होती है. ल्यू’ब्रि’केंट्स का इस्ते’माल कर इस सम’स्या से बचा जा सकता है.

कई महिलाओं में जन्म के समय से योनि का अधू’रापन होता है. इसमें योनि पूरी तरह विक’सित नहीं होती है और आगे चलकर से’क्स के दौरान दर्द का का’रण बनती है.

महि’लाओं को पीरिय’ड्स के दौरान से’क्स करते समय दर्द होता है. इसी तरह ग’र्भा’व’स्था या प्रेग्नें’सी के बाद शारीरिक संबंध बनाना मुश्किल हो सकता है. ऐसे अधि’कांश मामलों में कुछ समय बाद सबकुछ सामा’न्य हो जाता है.

लगा’तार दर्द महसूस हो तो क्या करें

यदि दर्द का संबंध मांसपे’शियों की थकान से है तो यह थोड़ी देर में अपने आप गायब हो जाएगा. यदि अंगों को पूर्ण रूप से विक’सित न होने या संर’चना’त्मक कारणों  या किसी संक्र’मण के कारण दर्द हो रहा है तो बिना देर किए डॉक्टर से सम्पर्क साधना चाहिए. डॉ’क्टर को अपनी परेशा’नी खुलकर बताएं. दवाओं से इन सम’स्या’ओं का इलाज किया जा सकता है.