Categories
News

सूखा अंडर’गारमेंट्स मिलता था गी’ला, एक दिन लड़की ने देखा तो पड़ो’स वाले अंकल..देखें तस्वीरें…

हिंदी खबर

सोश’ल मीडि’या प’र आज’कल लो’ग अ’पने औ’र अ’पनों के सा’थ हु’ई घट’नाओं को शे’यर क’रते है। ऐ’सी ही अ’पने दो’स्त सा’थ घ’टी ए’क घ’टना को ए’क लड’की ने शेय’र कि’या है। जिस’को जान’कर लो’ग हैरा’न है औ’र ऐ’सी गं’दी हर’कत कर’ने वा’ले ‘अंक’ल’ की जम’कर आलोच’ना क’र र’हे है।

आ’ईये जान’ते है ल’डकी ने अप’नी पो’स्ट में क्या लि’खा है।

‘‘मैं य’हां ब’ता दू की जो घट’ना य’हां बता’ई ग’ई है वो मे’री ग’र्ल फ्रैं’ड के सा’थ घटि’त हु’ई है। इ’स घट’ना का मे’रे सा’थ को’ई स’रोकार न’हीं है। मैं ए’क अपा’र्टमेंट में रह’ती हूं, ज’हां ज्या’दातर क’पड़े सु’खाने के लि’ए छ’त प’र ही जा’ना पड़’ता था। क्यों’कि ह’मारे घ’रों की गैले’री में पर्या’प्त धू’प न’हीं आ’ती थी। ह’मारी म’ल्टी में कु’ल 16 परि’वार र’हते हैं, ज’हां ए’क फ्लो’र प’र ए’क अधे’ड़ उ’म्र के रिटा’यर्ड अंक’ल रह’ते हैं।

अ’ब क्या हो’ता था कि मैं या को’ई औ’र म’हिला या लड़’की अप’ने को’ई क’पड़े सुखा’ने जा’ए तो वो अंक’ल पह’ले ही व’हां मौ’जूद हो’ते थे, प’र ह’म स’ब ने इ’से इग्नो’र कि’या, वै’से तो मैं अप’ने कप’ड़े रा’त में उता’रने जा’ती थी