Categories
Other

12 साल बाद खोयी हुई बच्ची को फेसबुक ने वापस परिवार से मिलाया

आज हम आपको बताने जा रहे हैं की आंध्रप्रदेश  की एक लड़की 12 साल बाद अपने परिवार से जल्द ही मिलने वालीं हैं . दरअसल ये लड़की 4 साल की उम्र में खो गई थी और फेसबुक के जरिए आज वो वापस अपने परिवार को मिल पाई हैं . वामसी नाम का एक शख्स हैं जो खोये हुए बच्चो को उनके परिवारों से मिलवाने का काम करते हैं.

A woman checks the Facebook Inc. site on her smartphone whilst standing against an illuminated wall bearing the Facebook Inc. logo in this arranged photograph in London, U.K., on Wednesday, Dec. 23, 2015. Facebook Inc.s WhatsApp messaging service, with more than 100 million local users, is the most-used app in Brazil, according to an Ibope poll published on Dec. 15. Photographer: Chris Ratcliffe/Bloomberg via Getty Images

आंध्रप्रदेश की इस बच्ची का नाम भवानी है, जो वामसी कृष्णा के घर पर काम करने के लिए आई थी. इसके बाद वामसी कृष्णा से बात करते हुए उसने बताया था कि वह विजयवाड़ा में 4 साल की उम्र में अपने माता-पिता से बिछड़ गई थी. इसके बाद उसे उन्हें एक महिला ने गोद ले लिया और वह तब से ही वो उस महिला के साथ विजयवाड़ा में रहने लग गयी थी .  भवानी ने कहा कि वह वापस अपने परिवार से मिलकर काफी खुश है.

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए वामसी कृष्णा ने कहा, ‘‘मैं किसी को भी काम पर रखने से पहले उनके कागजों को देखती हूं, इसलिए मैंने इस बच्ची से भी उसके कागज मांगे थे ताकि मुझे पता चल पाए कि इसकी उम्र क्या है. पर जब बच्ची ने कहा कि उसके पास कोई कागज नहीं हैं, क्योंकि वह 4 साल की उम्र में खो गई थी और उसे एक महिला ने गोद ले लिया”. उन्होंने आगे कहा, ”फिर मैंने उससे पूछा कि क्या वह अपने असली माता-पिता से मिलना चाहती है, तो उसने हां बोला. इसके बाद मैंने उसकी जानकारी ली और फेसबुक पर उसके माता-पिता को ढूंढना शुरू कर दिया था ”. 

वामसी ने आगे ये भी बताया की , ”मैंने अपने कुछ जानने वालों को बच्ची के बारे में बताया और उनमें से एक ने मेरे द्वारा दी गई जानकारी पर मैसेज किया”. इसके बाद मैंने उसकी सभी चीजें पूछीं, जो लड़की से मिली जानकारी से मिल रही थी. इसके बाद मैंने वीडियो कॉल के लिए कहा. इसके बाद लड़की के परिवार ने कहा कि वह उनकी की बेटी है”. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.