Categories
News

पी’रियड्स के दौ’रान से’क्स कर’ने से घ’बराते है आ’प, जा’न लें ये अ’नोखे फा’यदे…

हिंदी खबर

महि’लाएं अ’पने घ’र- परि’वार में इ’तनी व्य’स्त रह’ती हैं कि उ’न्हें खु’द की से’हत का ध्या’न र’खने की सू’ध ही न’हीं हो’ती है। य’ही व’जह हो’ती है कि ब’ढ़ती उ’म्र के सा’थ उ’न्हें त’रह-त’रह की स’मस्याएं हो’ने ल’गती हैं। 35 की उ’म्र के बा’द जो’ड़ों का द’र्द, कम’र द’र्द हो’ना ब’हुत सा’मान्य बा’त है लेकि’न सम’स्या की बा’त य’ह है कि श’रीर में हो र’ही इ’न स’मस्याओं को महि’लाएं नज’रअंदा’ज कर’ती जा’ती हैं जो कि आ’गे च’लकर कि’सी ब’ड़ी बीमा’री का रू’प ले ले’ती हैं ले’किन य’दि आ’प चा’हती हैं कि 35 के बा’द भी आ’प एक’दम फी’ट र’हें तो ब’हुत जरू’री है कि आ’प अप’नी जी’वनशै’ली में यो’ग को शा’मिल क’र लें। अ’गली स्ला’इड्स से जा’निए कि’न आ’सनों को क’रने से महि’लाएं ब’ढ़ती उ’म्र के सा’थ भी र’हती हैं एक’दम स्व’स्थ। 

अ’र्ध हला’सन 
पी’ठ के ब’ल सी’धे ले’ट जा’एं। दो’नों हा’थ छा’ती की बग’ल में ह”थेली के ब’ल ज’मीन प’र र’खें। अ’ब पै’रों को आ’पस में मि’लाकर धी’रे-धी’रे ऊ’पर उ’ठाएं। इ’न्हें 90 डि’ग्री के को’ण प’र र’खें। को’शिश क’रें कि पै’र ना मु’ड़ें। सां’स सा’मान्य रू’प से लें। कु’छ दे’र इ’सी स्थि’ति में रू’कें औ’र फि’र धी’रे-धी’रे पै’र ज’मीन प’र ला’एं। य’ह क्रि’या 3 से 4 बा’द दोह’राएं।

बा’त य’ह है कि श’रीर में हो र’ही इ’न स’मस्याओं को महि’लाएं नज’रअंदा’ज कर’ती जा’ती हैं जो कि आ’गे च’लकर कि’सी ब’ड़ी बीमा’री का रू’प ले ले’ती हैं ले’किन य’दि आ’प चा’हती हैं कि 35 के बा’द भी आ’प एक’दम फी’ट र’हें तो ब’हुत जरू’री है कि आ’प अप’नी जी’वनशै’ली में यो’ग को शा’मिल क’र लें।