Categories
News

पीएम मोदी के गृहराज्य में आसमान से बरसा सोना, लूट’नें के लिए मचा ब’वाल…👇

खबरें

सोने के भाव फि’लहाल आ’समान छू रहे हैं। अगर ऐसे में किसी के घर की छत पर या गांव के कि’सी इ’लाके में सोने की बा’रिश हो जाए तो भला सो’चो क्या होगा। सु’नने में तो ऐसी ची’जें रो’मांचक कम और ख्याली पुलाव ज्यादा लगती है। मगर भारत के एक गांव में ह’की’कत में ऐसा हुआ है। पीए’म नरेन्द्र मोदी के गृह राज्य गु’जरात के एक गांव में आस’मान से सो’ने की बारिश हुई, फिर क्या था लू’टने वालों की होड़ मच गई। गांव वाले रात के अंधेरे में टॉर्च लेकर निकल पड़े झाड़ियों में सोना ढूढ़ने। आइए जानते हैं पूरा मा’मला।

आसमान से बरसा सोना
दरअसल, आसमान से सोना की गिरने की घट’ना गुजरात के सूरत की है। सूरत ए’यर’पोर्ट के पास स्थित डु’म्मस गांव में कुछ दिन पहले आसमान से सोने गिर’ने की घटना सामने आई। सो’ना भी छोटे और बड़े टु’कड़ों में गिरा, जिसमें से बड़ा से बड़ा आकार एक छोटी ईंट के ब’रा’बर बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि ह’कीक’त में हुआ ये कि जब गांव के लोगों को आ’समा’न से सो’ना करने के बारे में पता चला तो सब सोने की तला’श में निकल पड़े। अब फ्री में मिल रहा है तो सोना भला किसे बुरा लगेगा।

कुछ लोगों के हाथ लगी सोने की ईंट
खबरें कि गांव के कुछ लोगों के हाथ सोने की ईंट लगी। गुजरात के जिस गांव में यह घटना हुई वहां के लोगों को सोने के टुकड़े सड़क के आस-पास झाड़ियों में मिले। ऐसा माना जा रहा है कि वि’देश से सोने की तस्करी करने वाले किसी व्यक्ति ने जहाज में से ही ये सोना नीचे फेंक दिया होगा। पकड़े जाने के डर से ऐसा किया जाना संभव है। सोने की खबर मिलते ही गांव के अलावा और भी दूर-दूर से लोग वहां आ गए और सोने की त’लाश शुरू कर दी।

अंधेरे में टॉ’र्च लेकर ढूढ़ने लगे सो’ना
कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जैसे ही गांव के बाहर से गुजरते हुए लोगों ने सोने जैसी धातु को पड़ा देखा तो यह खबर जंगल में आग की तरह वा’य’रल हो गई। बिस्किट जैसे ये टुकड़े छोटे-बड़े साइज में हैं। खबर फैलने के बाद गांव और उसके आस—पास के कस्बों के लोग जमा हो गए। इसके बाद लोग अंधेरा होने की वजह से पूरी रात टॉर्च लेकर सोना ढूढ़ते रहे।

कईयों की चमकी किस्मत तो कई हुए नि’राश
वहां कुछ लोगों को ऐसे टु’कड़े मिले और कुछ को नहीं, मगर जिसे भी मिला उसने किसी दूसरे को कानों-कान खबर नहीं लगने दी। जिसे नहीं मिला वो ल’गातार ढूं’ढ़ता रहा तो कुछ लोग निरा’श होकर घर भी लौट गए।