Categories
Other

क्रिकेट के पूर्व आलराउंडर खिलाड़ी के निधन होने से खेल जगत में छाया मातम

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब इस महामारी से संक्रमित मरीजों की संख्या 23 हजार पार हो गई है. मंत्रालय के मुताबिक, अबतक 23077 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. वहीं, 718 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि 4748 लोग ठीक भी हुए हैं. वोही दूसरी तरफ क्रिकेट जगत के आलराउंडर खिलाड़ी ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया. आइये आपको बताते हैं उस खिलाड़ी का नाम.

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर ग्रीम वॉटसन आखिरकार मौत को मात नहीं दे पाए। लंबे समय तक कैंसर से जूझने के बाद 75 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। मध्यक्रम बल्लेबाज के साथ-साथ मीडियम पेसर रहे वॉटसन ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 1967 से लेकर 1972 तक पांच टेस्ट मैच खेले। 1972 में उन्होंने दो एकदिवसीय मैचों में भी अपने देश का प्रतिनिधित्व किया।विक्टोरिया के लिए अपने घरेलू क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले ग्रीम वॉटसन को पहली बार 1966-67 के दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर डग वॉल्टर के रिप्लेसमेंट के रूप में जगह मिली थी। केपटाउन में खेले गए सीरीज के दूसरे मैच में उन्होंने डेब्यू किया। पहली पारी में 50 रन बनाए। अगले मैच में चोटिल होकर बाहर होना पड़ा। 

अपने पूरे करियर में इंजरी से जूझने वाले वॉटसन एक मैच के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जब टोनी ग्रेग की जानलेवा बीमर सीधे उनके नाक पर जा लगी थी।मेलबर्न में 1971-72 के दौरान खेली गई रेस्ट ऑफ द वर्ल्ड सीरीज में हुए इस हादसे के बाद डॉक्टर्स ने वॉटसन को हमेशा के लिए क्रिकेट छोड़ने की सलाह दी थी, लेकिन छह हफ्ते बाद ही वह इंग्लैंड जाने वाली टीम का हिस्सा थे, जहां उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी दो टेस्ट मैच खेले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.