Categories
धर्म

ये हैं हल्दी के चम’त्कारी उ’पाय, इनके करने से आपके जीवन की परेशा’नियां होंगी दूर

धर्मिक न्यूज़

हल्दी भारतीय रसो’ई में मिलने वाले मु’ख्य मसालों में से एक है। हल्दी से ही खाने को एक अलग रं’गत मिलती है। हल्दी का रसोई में तो उप’योग होता ही है, इसका आयुर्वे’दिक और धा’र्मिक महत्व भी माना गया है। हिंदू धर्म में ह’ल्दी को बहुत ही शुभ माना जाता है, इस’लिए मांग’लिक कार्यों में हल्दी का प्रयोग किया जाता है। हल्दी भग’वान वि’ष्णु को प्रिय है। उनकी पूजा में विशेष’तौर पर हल्दी का प्र’योग किया जाता है। हल्दी से जुड़े ज्यो’तिष उपाय करके आप ग्रहों संबं’धित परेशा’नियों के साथ धन संबं’धित सम’स्याओं से भी मुक्ति पा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं हल्दी से जुड़े ज्यो’तिष उपाय…

प्रतीकात्मक तस्वीर

अगर आप’का गुरु ग्रह कम’जोर होने के का’रण आपको परेशा’नियों का सामना करना पड़ रहा है तो प्रति’दिन पूजा के पश्चा’त हल्दी का ति’लक हाथ की कलाई या गले पर ल’गाना चाहिए। गले पर हल्दी का तिलक लगा’ने से वाणी में मज’बूती आती है और गुरु भी अनुकू’ल होता है। हर गुरुवार को बृह’स्पति देव की पूजा में हल्दी का प्रयो’ग करना चाहिए। इससे आपका बृह’स्पति मजबूत होकर शुभ फल प्रदा’न करता है। 

प्रतीकात्मक तस्वीर

 प्रत्ये’क गुरु’वार को पानी में थोड़ी सी हल्दी मिला’कर पूरे घर में उसका छिड़’काव करना चाहिए। इससे वि’ष्णु जी के साथ मां ल’क्ष्मी की कृपा भी प्राप्त होती है। घर में सका’रात्मक ऊ’र्जा का संचार होता है। आपके घर में सुख-समृ’द्धि बनी रहती है। 

प्रतीकात्मक तस्वीर

अगर आपको किसी जरुरी और शुभ कार्य के लिए बाहर जाना है तो पूजा करके अपने माथे पर हल्दी का तिल’क लगा’कर जाएं। इसे बहुत ही शुभ माना जाता है। मान्य’ता है कि इससे आप’का कार्य पूरा हो जाता है।

turmeric

  प्रति’दिन पानी में एक चुट’की हल्दी मिला’कर स्नान करें। इससे आपको मान’सिक परेशा’नियों से निजात मिलती है और मन में नकारा’त्मक विचार नहीं आते हैं। हल्दी के पानी से स्नान करने पर वि’ष्णु जी की कृपा भी प्राप्त होती है।