Categories
News

असम में आज पीएम मोदी ने कहा, की देश को बदनाम करने वाले भारत के चाय को भी नहीं छोड़ रहे…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को असम और बंगाल दौरे पर है. इस दौरान उन्होंने असम में ‘असोम माला ‘ प्रोजेक्ट लाँच किया यहाँ ढेकियाजुली में उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कहा, देश की चाय को बदनाम करने के लिए विदेशों में साजिश रची जा रही है.

पीएम मोदी ने पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थर्नबर्ग के टूलकिट खुलासे का जिक्र करते हुए कहा, देश को बदनाम करने के लिए साजिश रचने वाले इस स्तर तक पहुच गये हैं कि भारत की चाय को भी नहीं छोड़ रहे है. आपने देखा होगा कि ये साजिश करने वाले कह रहे हैं, भारत के चाय के छवि को बदनाम करना है

हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कुछ दस्तावेज़ सामने आए है ये दस्तावेज़ यह बताते है कि विदेश में बैठी ताकते चाय के साथ भारत की जो पहचान जुड़ी है, उस पर हमला करने की फिराक में है. उन्होंने विस्तार में जानकरी दिए बिना ही कहा, कि ऐसे दस्तावेज सामने आए है, जिनमे भारतीय चाय को बदनाम करने के लिए देश के बाहर षड्यंत्र रचे जाने की बात का खुलासा हुआ है. मुझे भरोसा है कि असम के चाय बागान कर्मी इन ताकतों का करारा जवाब देगा.

उन्होंने दावा किया है कि असम पिछले पाँच साल में अभूतपूर्व विकास किया है और इस दौरान यहाँ स्वास्थ्य एंव बुनियादी ढाँचे में सुधार हुआ है. प्रधानमंत्री ने कहा कि 8210 करोड़ रुपये की लागत वाली ‘असम माला ‘ योजना नये अवसर पैदा करेगी. इस योजना के तहत लोक निर्माण विभाग राज्य राजमार्ग का उन्नयन करेगा. मोदी ने कहा की उन्होंने चाय बागान कर्मीयों की स्थिति को हमेशा असम के विकास से जोड़ा है. और पीएम मोदी ने कहा की असम के स्वाधीनता सेनानियों ने देश की आजादी के लिए जो बलिदान दिया था. इन शहीदों के खून की एक – एक बूदं और साहस हमारे संकल्पों को मजबूत करता है.