Categories
Other

चीनी ह-म-ले में घा-य-ल जवान की आंखों देखी, बताया गलवान घाटी में उस रात क्या हुआ था?

भारत और चीन के बीच हुई खू’नी जं’ग के बाद अब भारत ने चीन को मा’त देने के लिए अपनी तैयारी पूरी कर ली है. साथ ही चीन के हर कदम पर करारा जवाब देने के लिए भारतीय सेना तैयार है. बता दें मंगलवार को हुई LAC पर हिं’सक झ’ड़प में भारतीय सेना के 20 सैनिक शही’द हो गए. जिसके बाद चीन के इस धो’खे का भारत की तरफ से क’ड़ा जवाब दिया जा रहा है. जिसके लिए अब भारत की हर सीमा पर भारतीय सेना पूरी तरह से तैनात है साथ ही जल, थल और नभ हर जगह सेना पूरी तैयारी के साथ मौजूद है.

लद्दाख की गलवान घाटी में चीन और भारत के सैनिकों के बीच हुए खू-नी संघर्ष में जवान सुरेंद्र सिंह घा-य-ल हो गए थे. उनका इलाज लद्दाख के सैनिक हॉस्पिटल में चल रहा है, जहां उन्हें 12 घंटे बाद हो-श आया. इसके बाद उन्होंने गलवान घाटी में हुए पूरे घटनाक्रम के बारे में बताया. साथ ही पहली बार किसी घायल ने चीन के पूरे षडयंत्र की दास्तान भी बयां की है.

फौजी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि चीनी सैनिकों ने धो-खे से गलवान घाटी से निकलने वाली नदी पर अचानक भारतीय सैनिकों पर ह-म-ला कर दिया. करीब 4 से 5 घंटे तक नदी में ही सैनिकों के बीच खू-नी संघर्ष चलता रहा. उस वक्त भारत के करीब 2 से ढाई सौ जवान मौजूद थे. जबकि चीन के 1000 से अधिक जवान थे.

उन्होंने बताया कि गलवान घाटी की नदी में हाड़-मां-स को गला देने वाले ठंडे पानी में यह संघर्ष चलता रहा. उनका कहना था कि जहां यह संघर्ष हुआ उस नदी के किनारे मात्र एक आदमी के लिए निकलने की जगह थी. इसलिए भारतीय सैनिकों को संभलने में भारी परेशानी हुई नहीं तो भारतीय सैनिक किसी से कम नहीं थे. भारतीय सैनिक भी चीन के सैनिकों को अच्छा सबक सिखा सकते थे लेकिन हम पर उन्होंने सा-जि-श के तहत और धो-खे से ह-म-ला किया.