Categories
News

बहुत अधि’क गु’स्सा आना भी है पि’त्त बढ़ने का ल’क्षण, पित्त दोष होने पर करें ये काम…

डेली न्यूज़

शरी’र में पि’त्त क्यों बढ़ता है? इसके लक्ष’ण क्या हैं और इस स्थि’ति में क्या खाना चा’हिए क्या नहीं? यहां जानें इन सभी सवा’लों के ज’वाब…

छोटी-सी बात पर गु’स्सा आना और बहु’त अधिक गु’स्सा करना। न’हाने के कुछ समय बाद ही शरी’र से दुर्गं’ध आने लगना…ये इस बात के लक्ष’ण हैं कि आप’का शरीर पि’त्तज प्रकृ’ति का है। यानी आपके श’रीर में पि’त्त की अधि’कता है। पित्त शरीर में अनेक स्था’नों पर प्रमु’खता में रहता है और इनके काम भी अलग होते हैं।

आयु’र्वेद के अन’सुार, पित्त असं’तुलित होने पर एक या दो नहीं बल्कि 40 प्रका’र के रोग हो सकते हैं। पित्त (Pitta) कम हो तब भी व्यक्ति रोगी हो जाता है और यदि पि’त्त अ’धिक हो तब भी कई तरह के रोग घेर लेते हैं। यहां जानें किन मु’ख्य कारण से शरीर में पित्त की मात्रा बढ़ जाती है…
-बहुत अधिक तीखा भोजन करने से पित्त बढ़ता है।
-मान’सिक तनाव के कारण पि’त्त बढ़ता है।
-शरीर की क्षम’ता से अधिक मेह’नत करने पर भी पित्त दोष में वृ’द्धि हो जाती है।
-भूख लगने पर भो’जन ना करना या बिना भूख के भी कुछ ना कुछ खाने से भी पि’त्त बढ़ने की सम’स्या हो जाती है।
-नॉन’वेज अधिक खाने से भी पि’त्त बढ़ता है।
-जो लोग ख’ट्टी चीजें, गर्म ता’सीर की चीजें और सिर’के से बनी चीजों का अधि’क सेवन करते हैं, उन्हें भी पित्त बढ़ने की समस्या हो जाती है।
फैट को तेजी से पिघ’लाती है फूल’गोभी, सर्दि’यों में इन 5 कार’णों से करें इसका निय’मित सेवन

पित्त दोष बढ़ने के लक्ष’ण

ऐसे पह’चाने बढ़े हुए पित्त को
-अब उन लक्ष’णों की बात करते हैं, जिनके आ’धार पर आप पह’चान सकते हैं कि आपके शरी’र में पित्त की मात्रा बढ़ी हुई है। इन ल’क्षणों में- बहुत जल्दी थकना और थका’न अधिक होना
-बहुत अधि’क गर्मी लग’ना और पसी’ना आना
-शरीर से अधिक दु’र्गंध आना
-मुंह में छाले होना या गले में सू’जन इत्या’दि की सम’स्या
-बहुत अधि’क गु’स्सा आना
-चक्क’र आना और कभी-कभी बेहोशी की सम’स्या होना
-लगा’तार ठंडी चीजें खाने की इ’च्छा होना
ना’श्ते में हर दिन खाएं इन 8 में से कोई 1 चीज और बढ़’ता वजन घटने लगेगा

पित्त बढ़ने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं

पित्त को संतु’लित करने के घरे’लू उपाय
-बढ़े हुए पित्त को शांत करने के लिए आप अपने खान-पान में जरूरी बद’लाव करें। सबसे पहले मसा’लेदार भोजन करना बंद करें और नॉन’वेज बिल्कु’ल ना खाएं।
-भोज’न में देसी घी का से’वन करें।
-शरीर को ठं’डक देनेवाली कच्ची सब्जि’यों को अधिक खाएं। जैसे खीरा, मूली, चुकं’दर, ककड़ी, गाजर, ब्रो’कली इत्या’दि।
अगर इन बर्तनों में खाना बना’एंगे तो वै’क्सीन लगने के बाद भी हो सकता है कोरोना संक्र’मण
पित्त’ज प्रकृ’ति के लोग क्या ना खाएं?
-पित्त बढ़ा हुआ रहता है तो आपको कुछ खास चीजों का सेवन बहुत ही सी’मित मात्रा में करना चाहिए। जैसे, कच्चे टमाटर ना खाएं
-ड्राई’फ्रूट्स बहुत ही कम खाएं
-बा:दाम को रातभर पानी में भिगो’कर खा सकते हैं।
-मूंगफ’ली का सेवन कम से कम करें।
-चाय और कॉ’फी कम पिएं।
-अल्को’हल से दूर रहें।