Categories
Other

इन 6 बातों का जरुर रखें ख्याल, वरना हो जायेंगें कोरोना वायरस के शिकार!

कोरोना वायरस चीन में तेजी से फ़ैलता जा रहा हैं. जिसका असर अब भारत सहित दुसरे देशों में भी देखने को मिल रहा हैं. आपको बता दें कि इस वायरस की वजह से कई लोग अपने जान गवां चुके हैं. कोरोना वायरस के कारण चीन में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के आदेश पर इमरजेंसी की घोषणा कर दी गयी हैं. आज हम आपको बताएँगे की कोरोना वायरस क्या हैं, ये कैसे फैलता हैं, इसके लक्षण क्या हैं और इसके बचाव क्या हैं?

1. कैसे फैलता है : WHO के मुताबिक कोरोना वायरस एक जूनोटिक है. इसका मतलब है कि यह जानवरों से मानव में फैला है. माना जा रहा है कि कोरोना वायरस सीफूड खाने से फैला था. लेकिन अब कोरोना वायरस मानव से मानव में फैल रहा है. यह कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आने से फैल सकता है. खांसी, छींक या हाथ मिलाना जोखिम का कारण बन सकता है. किसी संक्रमित व्यक्ति के छूने और फिर अपने मुंह, नाक या आंखों को छूने से भी वायरस का संक्रमण हो सकता है.

2. कोरोना वायरस के लक्षण : कोरोना वायरस के लक्षणों में नाक बहना, खांसी, गले में खराश, कभी-कभी सिरदर्द और बुखार शामिल है, जो कुछ दिनों तक रह सकता है. कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों के लिए यह घातक है. बुजुर्ग और बच्चे इसके आसान शिकार हैं. निमोनिया, फेफड़ों में सूजन, छींक आना, अस्थमा का बिगड़ना भी इसके लक्षण हैं.   

3 . क्या है इसका इलाज : इसका अभी तक कोई इलाज नहीं है. कोरोना वायरस से बचने की अबतक कोई वैक्सीन नहीं बनी है. इससे बचने का सिर्फ एक ही तरीका है सावधानी बरतें.  किसी बीमार, जुकाम, निमोनिया से ग्रसित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें. मास्क पहनें, अपनी आंखों, नाक और मुंह को न छुएं. हाथों को बार बार अच्छे से साबुन से धोएं.

 4 . बचने के उपाय : विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने अथवा उसे कम करने के लिए कुछ एहतियात बरतने को कहा है, जिसे संयुक्त राष्ट्र ने भी ट्वीट किया है.  ट्वीट में कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को कम करने के उपाय बताए गए हैं.

5. कहां-कहां फ़ैल चुका हैं : चीन के 20 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों में कुल 1072 संदिग्ध मामले सामने आए हैं. चीन ने कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए अभूतपूर्व कदम उठाते हुए बृहस्पतिवार को वुहान सहित पांच शहरों को सील कर दिया था. चीनी नववर्ष के पहले सड़कों पर भीड़भाड़ बढ़ने के मद्देनजर गाड़ियों, ट्रेनों और विमानों समेत आवागमन के विभिन्न माध्यमों को रोक दिया गया है. इन शहरों में तकरीबन दो करोड़ लोग रहते हैं. अमेरीका में भी वायरस के संक्रमण का एक मामला सामने आया है. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि यह शख्स चीन के वुहान से अमरीका आया है. सऊदी अरब में भारतीय नर्स कोरोना वायरस से पीड़ित हैं. भारत की एक नर्स कोरोनावायरस से पीड़ित पाई गई है और उसका इलाज सऊदी अरब में चल रहा है. यह वायरस चीन के शहर वुहान से अलग है. पीड़ित नर्स और उसकी करीब 100 सहकर्मियों की जांच की गई थी. इनमें से ज्यादातर नर्स केरल की हैं. भारतीय दूतावास ने यह स्पष्ट किया है कि वह नर्स कोरोनावायरस-सीओवी से पीड़ित हैं। वह 2019-एनसीवो (वुहान) से पीड़ित नहीं हैं. कोरोनावायरस-सीओवी के पहले मामले की पहचान सऊदी अरब में 2012 में हुई थी जबकि वुहान का कोरोना वायरस नोवेल वन यानी यह एकदम नया है.

6. चीन में भारतीयों के लिए हेल्पलाइन : चीन में भारतीय दूतावास ने वहां रह रहे भारतीयों के लिए इस संबंध में हेल्पलाइन शुरू की है. +8618612083629 और +8618612083617 भारत के लिए चिंता की वजह है क्योंकि करीब 700 भारतीय छात्र वुहान और आसपास के इलाके में रहते हैं। इन छात्रों में ज्यादातर चीनी विश्वविद्यालयों में चिकित्सा की पढ़ाई करते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.