Categories
News

जानलेवा बनी कोरोना वैक्सीन- टीका लगाने से पुतिन की बेटी की हो गई मौत? जानिए क्या है सच्चाई…

हिंदी खबर

कोरोना वायरस के असर के कारण बीते पांच महीने से पूरी दुनिया परेशान है. अभी तक पूरे विश्व में 2 करोड़ 20 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं जबकि 7 लाख 80हजार से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. इस वायरस का अभी तक कोई टीका नहीं बना है. हालांकि, रूस ने दावा किया है कि उसने कोरोना वायरस की वैक्सीन बना ली है और उसने इसका रजीस्ट्रेशन करा लिया है. लेकिन वैज्ञानिकों ने रूस के इस दावे को गंभीरता पूर्वक नहीं लिया है क्योंकि रूस ने इससे जुड़े अधिक जानकारी नहीं दी है. दूसरी तरफ रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दावा किया कि टीका सबसे पहले उनकी बेटी को लगाया गया था और उसमें वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित हुई है. वहीं अब दावा किया जा रहा है कि इसी वैक्सीन का दूसरा टीका जब पुतिन की बेटी को लगाया गया, जो उसकी मौत हो गई.

दरअसल, 15 अगस्त को पुतिन की बेटी के बारे में दावा किया गया कि जब रूस की COVID-19 वैक्सीन की दूसरा डोज उन्हें दिया गया तो उसके बाद उनकी तबियत बिगड़ने लगी और डॉक्टर उन्हें बचाने में सफल नहीं हो पाए.

रिपोर्ट के अनुसार, “व्लादिमीर पुतिन की बेटी को रूसी COVID वैक्सीन के अप्रत्याशित दुष्प्रभाव का सामना करना पड़ा, और मास्को में निधन हो गया. राष्ट्रपति भवन की तरफ से इस पर अभी कोई बयान जारी नहीं किया गया है. रूस के आंतरिक सर्कल के भीतर एक स्रोत ने कहा कि पुतिन की बेटी – कतेरीना तिखोनोवा – को उसके दूसरे इंजेक्शन के तुरंत बाद तापमान में वृद्धि का सामना करना पड़ा, और फिर एक दौरे का सामना करना पड़ा. वैक्सीन के साइड-इफेक्ट्स को डॉक्टर्स रिवर्स नहीं कर पा रहे थे और कल देर रात उसे मृत घोषित कर दिया गया.”

व्लादिमीर पुतिन ने अपनी बेटियों को अब तक दुनिया से छुपा कर ही रखा हुआ है. उनके बारे में काफी कम जानकारी सार्वजनिक उपलब्ध है. ऐसे में उनसे जुड़ी कोई जानकारी सामने आती है, तो उसकी पुष्टी का आधार रूसी मीडिया संस्थानों में जरूरत होती है. हालांकि, पुतिन की बेटी की मौत होना वो भी कोरोना वायरस की वैक्सीन से, यह खबर किसी से छुपती नहीं. क्योंकि रूस के ही कई वैज्ञानिकों मे देश में बन रही वैक्सीन को लेकर सवाल उठाए हैं.

वहीं कई फेक्ट चैक वेबसाइट ने भी इस न्यूज को फेक बताया है. फैक्ट चैक वेबसाइट snopes के अनुसार, यह रिपोर्ट क्रेमलिन (राष्ट्रपति भवन की अधिकारिक वेबसाइट, रूस) की एक रिपोर्ट, पुतिन के एक बयान या विश्वसनीय समाचार आउटलेट द्वारा, नहीं बताई गई है. यह रिपोर्ट उस वेबसाइट पर पब्लिश हुई हैं, जो कुछ हफ्ते पहले बनाई गई थी.

इसके अलावा, दावे का समर्थन करने के लिए इस वेबसाइट द्वारा प्रदान किए गए “सबूत” विश्वसनीय नहीं हैं. TorontoToday.net इस दावे के लिए दो स्रोत प्रदान करता है, पहला, एक अनाम “रूस के आंतरिक सर्कल के स्रोत” जो व्यावहारिक रूप से घटना के बारे में कोई विवरण नहीं प्रदान करता है, और दूसरा, एक “टैरो कार्ड रीडिंग” YouTube वीडियो, जिसे वीडियो को बाद में यू-ट्यूब से हटा लिया जाता है.