Categories
News

IAS की तै’यारी क’रने वा’ली ल’ड़की ने शा’दी से पह’ले दि’खाए ऐ’से सप’ने, दीवा’ना हु’आ श’ख्स ला’खों रु’पए कि’ए ख’र्च, पू’री कहा’नी जा’न दि’माग हि’ल जाए’गा..

हिंदी खबर

लखन’ऊ (Uttar Pradesh) । शा’दी के ह’सीन सप’ने दिखा’कर ए’क युव’ती 6 ला’ख रुप’ए से अधि’क का चू’ना श’ख्स को ल’गा दि’या। पी’ड़ित को ठ’गी का त’ब अहसा’स हु’आ, ज’ब ल’ड़की औ’र उस’की कथि’त मौ’सी का नंब’र बं’द मि’ला औ’र उस’के द्वा’रा दि’ए ग’ए आधा’र का’र्ड, वो’टर आई’डी फ’र्जी नि’कले। फिल’हाल, अ’ब घ’टना के सं’बंध में पी’ड़ित ने हजर’तनगर था’ने में के’स द’र्ज करा’या। जिस’के आ’धार प’र ह’म आप’को पू’री स्टो’री ब’ता र’हे हैं। 

हजर’तनगर निवा’सी मनो’ज अग्र’वाल ने मेट्रोमोनि’यल वेबसा’इट जी’वन सा’थी डॉ’ट कॉ’म प’र अप’नी प्रो’फाइल ब’नाई थी। 15 अ’गस्त 2020 को प्रि’यंका सिं’ह ना’म की ए’क लड़’की का  रि’क्वेस्ट मि’ला, जि’सके बा’द दो’नों में बात’चीत का सिल’सिला शु’रू हो ग’या।

मीडि’या रि’पोर्ट्स के मु’ताबिक मनो’ज को लड़’की ने बता’या कि वो बि’हार की र’हने वा’ली है। उस’के मा’ता-पि’ता का निध’न हो चु’का है। वो अ’पनी मौ’सी के सा’थ र’हती है औ’र दि’ल्ली में र’ह क’र सि’विल की तैया’री क’रती है। जिस’के बा’द मनो’ज के घ’र वा’लों ने उ’सकी मौ’सी से बात’चीत क’र दो’नों के रि’श्ते को फाइ’नल क’र दि’या औ’र 16 दि’संबर को शा’दी की डे’ट फि’क्स क’र दी।

पि’छले 6 मही’ने से दो’नों में व्हाट्स’एप चैटिं’ग च’ल र’ही थी औ’र दो’नों का मि’लना जुल’ना भी हो’ता था। प्रि’यंका ने ए’क दि’न बता’या व’ह आईए’एस (UPSC) की तै’यारी क’र र’ही है। ज’ल्द ही उ’सका चय’न भी हो जाए’गा। मनो’ज ने पढ़ा’ई के लि’ए  क’भी 10 ह’जार क’भी 20 हजा’र औ’र 50 ह’जार रुपए मां’गने प’र भेज’ता र’हा। इ’स तर’ह उस’ने घ’र बन’वाने के लि’ए ज’मा कि’ए ग’ए क’रीब 6 ला’ख रु’पए उ’से दे दि’ए।

शा’दी की शॉपिं’ग क’रवाने के लि’ए मनो’ज ने प्रियं’का को लख’नऊ भी बुला’या। मॉ’ल में उ’से क’रीब 2 ला’ख रुप’ए की शॉपिं’ग भी कर’वाई। इत’ना ही न’हीं आ’ने-जा’ने की फ्ला’इट का कि’राया भी दि’या था। लेकि’न, इ’सके बा’द कथि’त तौ’र प’र आरो’पी प्रि’यंका सिं’ह आ’खिरी बा’र हैदरा’बाद जा’ने की बा’त क’ह क’र म’नोज को चू’ना लगा’कर फ’रार हो ग’ई।

म’नोज ने सं’पर्क कर’ने की को’शिश की तो प्रि’यंका औ’र उस’की मौ’सी का फो’न भी ऑ’फ आ’ने ल’गा। जि’सपर उस’ने प्रियं’का द्वा’रा दि’ए ग’ए आ’धार का’र्ड, पै’न का’र्ड औ’र वोट’र का’र्ड की जां’च की तो वो भी फ’र्जी निक’ला। जिस’के बा’द उ’से ठ’गी का अह’सास हु’आ। इस’के बा’द पी’ड़ित मनो’ज ने हजर’तगंज था’ने में मुकद’मा द’र्ज कर’वाया है।