Categories
Other

गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन को लेकर, कहा- ‘बाधा डालने वालों को होगी इतने साल की जे’ल’

देशभर में 14 अप्रैल तक कोरोना के संक्रमण को लेकर लॉकडाउन है. आपको याद दिला दें कि 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए संपूर्ण लॉकडाउन का एलान किया था. ये लॉकडाउन 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. सरकार की इस एडवाजरी का कुछ लोग अभी भी उल्लंघन कर रहे हैं. इसी को लेकर अब सरकार ने सख्त निर्देश दिया है.

आपको बता दें कि आज केंद्रीय गृह सचिव ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुख सचिवों को पत्र लिखकर कहा है कि यदि कोई लॉकडाउन का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम और अन्य आईपीसी धाराओं के तहत कड़ी कार्रवाई की जाए. जानकारी के मुताबिक इसमें कहा गया है कि अगर कोई लॉकडाउन के लागू होने में बाधा डालने वालों को दो साल की जेल हो सकती है.

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर लॉकडाउन के उपायों के उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई करने को कहा है. इसमें कहा गया कि डीएम अधिनियम और आईपीसी के तहत दंड प्रावधानों को व्यापक रूप से परिचालित किया जाना चाहिए और लॉकडाउन उपाय के उल्लंघन के लिए, कानून प्रवर्तन अधिकारियों द्वारा डीएम अधिनियम और आईपीसी के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी.

आपको याद दिला दें कि 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए संपूर्ण लॉकडाउन का एलान किया था. ये लॉकडाउन 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. लेकिन सरकार की इस एडवाइजरी के बावजूद देशभर में कई जगह ऐसी है जहां लोग लॉकडाउन का उल्लंघन करते देखे दा रहे है. बताते चलें कि कुछ राज्यों में स्थानीय प्रशासन कार्रवाई भी कर रही है. बिहार में कई गाड़ियों को जब्त भी किया गया है.

आज इस सब को देखते हुए केंद्रीय गृह सचिव ने चिट्ठी लिखकर सख्त कार्रवाई करने की बात कही है. बता दें कि अब तक कोरोना वायरस के देशभर में कुल 2100 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. साथ ही ये आंकड़ा 2113 हो चुका है. वहीं कोरोना वायरस की वजह से अब तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.