Categories
News

दुर्ल’भ बीमा’री से पी’ड़ित मा’सूम: बढ़’ती जा र’ही है जी’भ, डॉ’क्टर भी हु’ए हैरा’न, दे’खें मासू’म ब’च्चें की…

हिंदी खबर

नई दि’ल्ली:  आ’ज क’ल क’ब कि’स को क्या हो जा’ए ये सम’झना मुश्कि’ल हो जा’ता है। कु’छ बी’मारियां तो ऐ’सी हो’ती है कि डॉ’क्टर भी स’मझ न’हीं पाते । ऐसा ही कु’छ अमे’रिका में 3 सा’ल का ब’च्चा ओ’वेन थॉ’मस के सा’थ हुआ है। था’मस ए’क बेह’द दु’र्लभ बीमा’री से जू’झ र’हा है। इ’से बिक’विथ वाइ’सन (Beckwith-Wiedemann) सिंड्रो’म (बी’डब्ल्यूएस) क’हा जा’ता है। ये ए’क ऐ’सी बी’मारी है ज’ब श’रीर के कु’छ अं’ग का’फी ब’ढने ल’गते है। ये कं’डीशन 15 ह’जार में से ए’क ब’च्चे को प्रभा’वित कर’ती है। ओ’वेन की जी’भ है जो ज’न्म से ही बढ़’ती जा र’ही है। ओ’वेन की जी’भ सा’मान्य से चा’र गु’णा ज्या’दा लं:बी है।

बी’डब्ल्यूएस की स’मस्या

ओवे’न की मां ने क’हा ज’ब पै’दा हु’आ था तो उस’की मां थेरे’सा ने उस’की जी’भ के बा’रे में डॉ’क्टर्स से पू’छा तो उन्हों’ने ध्या’न न’हीं दि’या था उ’स वक्त। ले’किन थेरे’सा की न’र्स ने कहा था कि उ’न्हें इ’स मु’द्दे के बा’रे में पू’छताछ क’रनी चा’हिए और इस’के बा’द डॉक्ट’र्स ने जां’च शु’रू की थी और उ’सके बाद ओ’वेन में बी’डब्ल्यूएस की स’मस्या डि’टेक्ट हु’ई।

जी’भ बचप’न से ही का’फी ब’ड़ी

ओ’वेन का ज’न्म 7 फर’वरी 2018 को हु’आ था। उ’सकी जी’भ बच’पन से ही का’फी बड़ी थी। उसे सां’स ले’ने में भी दि’क्कत हो’ने लगी थी। क’ई बार रा’त को सो’ते सम’य ये ब’च्चा सां’स ले’ना भू’ल जा’ता था और इस’का ग’ला घु’टने लग’ता था। इस’के च’लते वो सो’ते सम’य उ’ल्टी भी क’र चु’का था। इ’स घट’ना के बाद थे’रेसा और उन’के प’ति घ’र पर ए’क डि’जिटल मॉ’नीटर ले आ’ए थे जो ओ’वेन की हा’र्ट रे’ट और ऑक्सी’जन लेव’ल को चे’क क’रता था और कु’छ भी असा’मान्य होने प’र उ’न्हें सूच’ना दे देता था ।