Categories
Other

मध्यप्रदेश में आफत की बारिश, रतलाम में डूबा बस स्टैंड, मुंबई-दिल्ली रेलमार्ग भी बंद

भोपाल पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश में जारी बारिश अब समस्या पैदा कर रही है। पूरे राज्य में बहुत बारिश होती है और भारी बारिश होती है। बारिश के कारण, रतलाम बस स्टॉप पानी में डूब गया और मुंबई-दिल्ली मार्ग शनिवार को नागदा के पास ट्रेन ट्रैक पर पानी के कारण बंद हो गया।

भारी बारिश के कारण मुंबई-दिल्ली रेल मार्ग प्रभावित हुआ: भारी बारिश के कारण, नागदा के पास ट्रेन ट्रैक पर पानी शनिवार को बंद हो गया और कई ट्रेनों को जंगल के बीच में खड़ा होना पड़ा। पश्चिम रेलवे के रतलाम डिवीजन के सूत्रों के अनुसार, कई ट्रेनें विचलित मार्ग से चलती हैं और कुछ रद्द कर दी जाती हैं, जबकि कुछ ट्रेनें चार से नौ घंटे के बीच देरी से पहुंचती हैं।

19 गांधीसागर के दरवाजे खोले गए, बाढ़ के कारण: राज्य में चौबीस बांधों के दरवाजे कई दिनों से खुले हैं। इस बीच, 19 गांधी सागर बांध के दरवाजे आज खुलने के कारण बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। उनके मंदसौर जिले के कई गांवों में पानी भर गया। शहर की कई बस्तियां जलमग्न हो गई हैं। हालांकि, इससे पहले, जिला कलेक्टर ने शहर की बस्तियों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया है। यहां का प्रसिद्ध पशुपतिनाथ मंदिर जलमग्न था। मंदिर के पास बहने वाली शिवना नदी में बाढ़ आ गई है।

रिपोर्ट में बस फंस गई, 50 यात्रियों की जान बची: रानापुर से झाबुआ पहुंचने पर, एक निजी बस चालक ने शुक्रवार की रात को मॉड रिवर रिपोर्ट पर 50 यात्रियों से भरी एक बस को खड़ा कर दिया। पैर लंबा, पानी उसके ऊपर बह गया। चालक के बस से उतरने और कूदने के कारण बस भंग होने के कारण बस बहने लगी। आस-पास के ग्रामीणों, जो तैयार थे, ने सभी यात्रियों को बस से सुरक्षित निकाल लिया।

11 जिलों में रेड अलर्ट: मौसम विभाग ने आज भी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। राज्य के 11 जिलों में लाल बारिश का अलर्ट है।
ये जिले अलर्ट पर हैं: मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि नीमच, मंदसौर, उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, आगर, राजगढ़, धार, झाबुआ और अलीराजपुर में बहुत भारी बारिश हो सकती है। वहीं, देवास, सीहोर, इंदौर, अशोकनगर, मुरैना, श्योपुर, गुना, शिवपुरी, खरगोन, बड़वानी, खंडवा और बुरहानपुर जिलों में भारी बारिश की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.