Categories
Entertainment News

महेश भट्ट ने यौन उत्पीड़न के मामले में तोड़ी चुप्पी मेरी तीन बेटियां हैं मैं ऐसा घिनौना हरकत नहीं कर सकता…

हिंदी खबर

मुंबई। मॉडलिंग के नाम पर यौन उत्पीड़न के मामले अक्सर ही सामने आते रहे हैं। हाल ही में कुछ सेलेब्स पर कथित तौर पर लड़कियों का शोषण करने वाली मॉडलिंग फर्म को बढ़ावा देने के लिए नोटिस जारी किया था। जिसमें महेश भट्ट का नाम भी शामिल था। जिस पर अब महेश भट्ट की तरफ से बयान जारी किया गया है।

राष्ट्रीय महिला राष्ट्रीय महिला आयोग को ऑनलाइन बयान जारी करते हुए महेश भट्ट ने कहा है,’मैं राष्ट्रीय महिला आयोग को सैल्यूट करता हूं कि उन्होंने ऐसी कुछ संस्थाओं को चिन्हित कर उन पर कड़ाई की है जो इंडस्ट्री में महिलाओं संग यौन उत्पीड़न को बढ़ावा देती हैं और इंडस्ट्री का नाम खराब करती हैं।

इसके लिए मैं नेशनल कमिशन फॉर वुमन का आभारी हूं। मैं आज अपने ऊपर लगे एलिगेशन के संदर्भ में कमिशन के समक्ष हाजिर हुआ।

महेश भट्ट ने आगे कहा,’आईएमजी वेंचर ने नवंबर 2020 में अपने प्रमोशनल इवेंट मिस्टर और मिसेज ग्लैमर, 2020 में मेरा नाम का इस्तेमाल किया और मुझे अमंत्रण दिया कि मैं इवेंट का हिस्सा बनूं। इसी के संदर्भ में मुझे कमिशन के सामने हाजिर होना पड़ा। मगर मैंने मौजूदा हालातों का हवाला देकर शो में शिरकत करने से मना कर दिया था। मैं इस इवेंट को लेकर किसी भी प्रकार के एग्रीमेंट में नहीं था और ना हीं इसके लिए मुझे कोई फीस दी गई थी। मगर दुर्भाग्यवश मेरा नाम और मेरी इमेज का इस्तेमाल सोशल मीडिया द्वारा इस इवेंट के संदर्भ में मेरी सहमति के बिना किया गया। जब मैंने इस बारे में उनसे पूछा तो उन्होंने इसके लिए मुझसे माफी मांगी। इसके बाद मेरी इमेज और नाम को हर जगह से हटा दिया गया।’

महेश भट्ट ने अंत में अपनी बेटियों का हवाला देते हुए कहा,’ 71 वर्ष की उम्र में मैं ज्ञान को साझा करने और सामाजिक कामों में योगदान करने में विश्वास रखता हूं। तीन बेटियों का पिता हूं और इस धर्मयुद्ध में पूरे सहयोग के लिए तैयार हूं।’

कथित तौर पर इस कंपनी को प्रोमोट करने वाले सेलेब्स में मौनी रॉय के अलावा उर्वशी रौतेला, रणविजय सिंह और प्रिंस नरूला भी शामिल हैं। इन सबका बयान भी राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने दर्ज किया है।