Categories
Other

भारत की इस महिला डॉक्टर ने ढूंढ निकाला कोरोना वायरस का तोड़

कोरोना वायरस चीन में तेजी से फ़ैलता जा रहा हैं. जिसका असर अब दुसरे देशों में भी देखने को मिल रहा हैं. आपको बता दें कि इस वायरस की वजह से कई लोग अपने जान गवां चुके हैं. कोरोना वायरस के कारण चीन में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के आदेश पर इमरजेंसी की घोषणा कर दी गयी हैं. आपको बता दें कोरोना वायरस भारत में भी धीरे धीरे फैलने लगा हैं. आपको बता दें भारत में इस वजह से स्कूलों को बंद कर दिया गया हैं. लेकिन ख़बर ये आ रही हैं कि एक महिला डॉक्टर ने इसका तोड़ निकाला हैं. आइये बताते हैं आपको पूरी बात.

काफी समय से गौमूत्र पर काम कर रही पंतनगर विवि की कीट वैज्ञानिक डॉ रुचिरा तिवारी ने कोरोना वायरस से बचने के लिए एक नई तरकीब खोज निकाली है. उनके अनुसार अब गौमूत्र से कोरोना वायरस के इलाज की संभावना हो सकती है. उन्होंने कहा कि गोमूत्र मल्टीपर्पज इफेक्ट के रूप में काम करता है. डॉ ने कहा कि गौमूत्र वायरस और फंगस से निपटने में कारगर है. जब गौमूत्र के छिड़काव से मधुमक्खियों में हुए वायरस अटैक को खत्म किया जा सकता है.

गौमूत्र की विशेषताओं पर शोध करना जरूरी है. कोरोनावायरस से लड़ने में यह कितना कारगर साबित होगा, अभी यह कह पाना मुश्किल है लेकिन तय है कि गौमूत्र इंसानों के लिए फायदेमंद है. चीन में फैले कोरोना वायरस का असर सेलाकुई की फार्मा इंडस्ट्री में भी दिखने लगा है. कोरोना के कारण केंद्र सरकार ने कुछ सक्रिय औषधि सामग्री और फॉर्मुलेशंस के आयात पर रोक लगा दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.