Categories
News

‘ रॉयल बंगाल टाइगर ‘ बनी ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को अपनी तुलना रॉयल बंगाल टाइगर से करते हुए कहा की वह कमजोर व्यक्ति नहीं है, जो भाजपा से डर जाये. ममता बनर्जी ने कहा ” यह सोचने की कोई वजह नहीं है कि मै कमजोर हूँ, मै किसी से डरने वालों में से नहीं हूँ. मै मजबूत हूँ हमेशा अपना सिर ऊँचा रखती हूँ. जबतक जीवित रहूंगी मै रॉयल बंगाल टाइगर के तरह रहूंगी.” हल्दिया में रविवार को भाजपा की बैठक में पश्चिम बंगाल सरकार के कर्मचारीयों को वक्त पर वेतन नहीं मिलने पर प्रधानमंत्री नेरन्द्र मोदी के दावे को गलत बताते हुए. बनर्जी ने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार बीएसएनएल, सेल को बेच रही है और रेलवे तथा बिमा कंपनीयों का निजीकरण कर रही है.

बनर्जी ने यह भी दावा किया कि केन्द्र सरकार ने पिछले साल राज्य में आए भीषण चक्रवाती तूफान अम्फान से निपटने के लिए कोई सहायता नहीं दी है और न ही कोविड -19 महामारी से निपटने में राज्य की मदद कर रहा है. भाजपा के बाहर होने का मुद्दा फिर से उठाते हुए बनर्जी ने दावा किया कि वह सिर्फ गुजरात और दिल्ली की पार्टी है. जो राष्ट्रिय जनसंख्या रजिस्टर लेकर आयी है. मुख्यमंत्री ने फिर से कहा कि वह राष्ट्रिय नागरिक पंजी और राष्ट्रिय जनसंख्या रजिस्टर को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी.

बंगाल के तात्कालिन नवाब सिराजुद्दौला के राज्य की राजधानी मुर्शिदाबाद में रैली को संबोधित करते हुए बनर्जी ने तृणमूल काँग्रेस छोड़कर भाजपा में सामिल होने की तुलना मीर जाफर से की. उन्होंने कहा की मीर जाफर सिराजुद्दौला की सेना का सेनापति था जो 1757 में पलासी की लड़ाई में अपने नवाब को धोखा देकर ब्रिटीश से जा मिला.