Categories
News

मथु’रा: नंद’बाबा मंदि’र में नमा’ज मामले ने पक’ड़ा जोर,चार युव’कों के खिलाफ रिपो’र्ट दर्ज, जाने पूरी खबर..

ब्रेकिंग न्यूज़

मंदिर परिसर में नमाज अदा करते मुस्लिम यात्री
मंदिर परिसर में नमाज अदा करते मुस्लिम यात्री
फैजल खान ने दिया सद्भावना का संदेश

म’थुरा जन’पद के नंद’गांव स्थित नंद’बाबा मं’दिर परि’सर में नमा’ज अदा करने के मामले ने तूल प’कड़ लिया है। मं’दिर के दो सेवा’यतों की तह’रीर पर थाना बर’साना में चार युव’कों के खिला’फ रिपो’र्ट दर्ज की गई है। सेवा’यतों ने नमा’ज अदा करने वाले युव’कों के संबं’ध विदे’शी संग’ठनों से होने की आशं’का जता’ई है। साथ ही विदे’शी फंडिं’ग की जांच की भी मांग की गई है। बता दें कि  दि’ल्ली से आए दो यु’वकों ने मं’दिर परिसर में नमा’ज अदा की थी। इसके फोटो और वी’डियो सोश’ल मीडिया पर वाय’रल हो गए।

मंदि’र के सेवा’यत मुकेश गोस्वा’मी और शिव’हरि गोस्वा’मी ने रवि’वार की शाम दी तह’रीर में कहा है कि 29 अक्तू’बर को दो’पहर साढ़े बा’रह बजे नंदबा’बा मंदिर नंद’गांव में मु:स्लिम यात्री और दि’ल्ली की खोदा’ई खिदम’तगार सं’स्था के सद’स्य फैसल खान व मोह:म्मद चांद अपने सा’थियों आलोक रतन और नीलेश गु’प्ता के साथ आए थे। 

आ’रोप है कि फै:सल और मोह’म्मद चांद ने सेवा’यतों की बिना अनु’मति और जान’कारी के मं’दिर परिसर में न’माज अदा की। साथि’यों से फोटो खिंच’वाकर इसे सो’शल मी’डिया पर डाल दिया। इनके इस कृ’त्य से हिंदू स’माज में रोष है। सेवा’यतों ने का’नूनी कार्र’वाई की मांग की है। एसए’सपी डॉ. गौर’व ग्रोवर के अनु’सार सेवा’यतों की तह’रीर के आ’धार पर फैस’ल खान और मोह’म्मद चांद के खिला’फ मुक’दमा दर्ज कर लिया गया है।

चौपा’इयां सुनाईं, कहा-ब्रज की मि’ट्टी में प्रेम
दि’ल्ली निवा’सी फै’सल खान और मोह’म्मद चांद, आ’लोक व नी’लेश के साथ नंदभ’वन में नंद’बाबा और भग’वान श्रीकृ’ष्ण के पूरे परि’वार के द’र्शन किए थे। फै’सल खान ने बताया था कि वे स’भी ब्रज 84 कोस की या’त्रा के लिए साइ’किल से निकले हैं। इस दौ’रान फैस’ल ने वहां मौ’जूद लोगों को रामच’रित मा’नस की चौपा’इयां भी सु’नाईं। उन्होंने कहा कि धर्म ही प्रे’म है। ब्रज की मि’ट्टी में प्रेम महसू’स किया है। दिवा’ली पर श्री’राम के नाम के चिराग जलेंगे। 

सेवा’यत कृ’ष्ण मु’रारी उर्फ का’न्हा गोस्वा’मी ने दल को प्र’साद भी भेंट किया था। वा’यरल फोटो के बारे में पूछे जाने पर कृ’ष्ण म’रारी उर्फ का’न्हा गोस्वा’मी ने कहा कि फैस’ल खा’न को हिं’दू धार्मि’क ग्रंथों का का’फी ज्ञान है। लेकिन नंद’बाबा मंदि’र परिसर में फैसल और चांद ने नमा’ज अदा की है, इस’की उन्हें कोई जान’कारी नहीं है।

फैस’ल ने फेस’बुक पर डाला था फोटो
मंदि’र में जुह’र की नमा’ज पढ़ने की फोटो फैसल ने अपने फेस’बुक पेज पर पोस्ट किया था। इस’के बाद यह वाय’रल हुआ। तह’रीर देने वाले सेवा’यतों ने कहा कि उनका विरो’ध मंदिर में आने से नहीं ब’ल्कि गुप’चुप नमाज पढ़ने और इस’की फोटो वाय’रल करने से है। क्यों’कि इसके लिए न तो उन्हों’ने अनुम’ति ली और न ही इस’की अनु’मति उन्हें दी गई थी।