Categories
News

संघर्षों से भरे हुए जीवन के बाद भी मान्या सिंह ने मिस इंडिया की रनरअप बन, किया अपने सपनो को साकार

यूँ तो सपने हर किसी के जीवन में होते हैं लेकिन संघर्षों से लड़ते हुए जो अपने मुकाम को हासिल करता है वही असली खिलाड़ी होता है. जीवन में सफल होना बेहद मुश्किल काम होता है. लेकीन तमाम मुश्किलों के बाद जीवन में ऊचाईयां कैसे हासिल की जाती है इसका जीता जागता उदहारण है मान्या सिंह.

आपको बता दें की मान्या सिंह फेमिना मिस इंडिया 2020 की रनर-अप चुनी गयी हैं. मिस इंडिया प्रतियोगिता का आयोजन 10 फरवरी की रात को मुंबई में हुआ था. मान्या सिंह के पिता एक ऑटो रिक्शा चालक हैं और उनका जीवन काफी मुश्किलों में बीता है हालात ऐसे रहे कि कई रातों को उन्हें भूखे भी सोना पड़ा था. हलाकि मान्या सिंह ने हालात के आगे घुटने टेकने के बजाय उनसे लड़ने का फैसला किया. मान्या सिंह ने सोशल मीडिया पर अपनी कहानी शेयर की.

जीत के साथ ही मान्या के पुराने फोटोज और वीडियोज भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं और फैन्स उन्हें काफी पसंद कर रहे हैं. मान्या सिंह बचपन से ही पढ़ाई में काफी अच्छी रही हैं और 12 वीं कक्षा में उन्हें बेस्ट स्टूडेंट का अवार्ड भी मिला था. मान्या सिंह के कहानी से ये पता चलता है की अगर कोई सच्चे दिल से कोई सपना देखता है तो कोई भी परिस्थिति उसे उसका सपना पूरा करने से नहीं रोक सकती है.