Categories
News

पिता ने बेटी के शादी के कार्ड पर कुछ ऐसा लिखवा दिया, कि जिसने भी देखा दं’ग रह गया…

हिंदी खबर

आमतौर पर शादी का कार्ड बेह’द नि’जी होता है और इसमें लोग दुल्हा-दुल्हन के परिच’य के साथ व्यक्तिगत जानकारियां ही साझा करते हैं पर हा’ल ही में यूपी में एक ऐसा शादी का का’र्ड छ’पा है जिसमें कुछ ऐसा लिखा है जो आजकल च’र्चा का विषय बन गया है। दरअसल इस का’र्ड में शादी से सम्बं’धित जानकारियों के साथ एक सामाजिक संदेश भी लिखा गया है .. ऐसे में अब ये कार्ड सुर्खि’यों में छा गया है। चलिए आपको बताते हैं कि आ’खिर इस का’र्ड में लिखा क्या है..

वैसे आजकल शादियों में कुछ अलग ह’टकर करने का चलन चल पड़ा है .. लोग डेस्टिने’शन वेडिंग से लेकर, शादी के ड्रेस और त’रीके को लेकर बहुत से नए प्रयो’ग कर रहे हैं पर यूपी में शादी के कार्ड को लेकर कुछ ऐसा किया गया है जो समाज के लिए एक न’जीर बन गया ।

दअसल जिले में एक पिता ने बेटी की शादी के कार्ड पर शादी की जरूरी जानकारी सा’झा करने के साथ एक सामाजिक संदेश भी लिखा है .. कन्नौ’ज के तालग्राम के इस किसान पिता ने बेटी की शादी के निमंत्रण पत्र सामाजिक संदेश लिखवाया है.. शरा’ब पीना स’ख्त मना है। ऐसे में उनके इस कद’म की चारों ओर प्रशं’षा हो रही है। एक पिता के फ’र्ज के साथ इस किसान ने जो सामाजिक दायित्व निभाने की कोशिश की है उससे सभी लोग उसकी ता’रीफे कर रहे हैं .. इस तरह वो पूरे क्षेत्र में च’र्चा का विषय बन गया है।

कन्नौ’ज के तालग्राम के अवधेश चं’द्र का कहना है कि उन्होने अपनी बेटी की शादी में का’र्ड पर ऐसा इसलिए लिखवाया है कि क्योंकि अ’क्सर न’शे में लोग शादी के कार्यक्रम में अपनी मर्यादा भूल हंगा’मा करने लगते हैं । ऐसे में शादी के कार्यक्रम में रंग में भंग हो जाता है। ऐसे में अवधेश चं’द्र ने बेटी की शादी में बुलावा पत्र के साथ शरा’ब न पीने की हिदा’यत दे दी है।

ऐसे में सभी लोग अवधेश चंद्र के इस कदम की प्रशंषा कर रहे हैं और माना जा रहा है कि अगर ऐसा ही दूसरे लोग करते हैं तो न’शे पर अंकुश लग सकता है। जबकि खुद ही लोग शादी में शरा’ब और दूसरी नशीली चीजों का प्र’बंध करते हैं.. ज्यादातर शादी समारोह में कॉकटेल पा’र्टी और अलग से नशी’ले पदार्थों का इंतजा’म किया जाता है। ऐसे में इससे शरा’ब के से’वन को बढ़ावा मिलता है। वहीं अ’वधेश चंद्र ने शादी के का’र्ड पर इसके लिए चे’तावनी लिखकर अलग नजीर पे’श करने की को’शिश की है।