Categories
Other

इस ना’गा साधु नेअपने लिं’ग से कर डाला ये कारनामा!

कई ना’गा साधु देखने को मिलते है जिनके भौतिक और मा’न’सि’क ता’क’त और श’क्ति’यों को देखा जा सकता है. इन साधुओं की आ’लौ’कि’क श’क्ति’यों की वजह से भारत को साधुओं का देश कहा जाता है. इलाहाबाद के माघ मेला में हुआ जहां हर साल इन ना’गा साधुओं की एक से बढ़कर एक अद्भूत श’क्ति देखनी को मिलती है. इन मेलों में ये ना’गा साधु अपनी अ’लौ’कि’क श’क्ति’यों का प्रदर्शन करते है. ये रिकॉर्ड भी बने इस मेले में ही ना’गा साधुओं का एक से बढ़कर एक अद्भूत चम’त्‍का’र देखने को मिलते है.

इस मेले में दुनियाभर से साधुओं की भीड़ जमा होती है. जो अपने खास श’क्ति और क्ष’म’ता के वजह से जाने जाते है. इस मेले में ढेरों ऐसे बाबा मिलते है जो अपने नायाब रिकॉर्ड के लिए भी जाने जाते है. इस मेले में एक राधे श्‍याम प्रजापति नामक साधु ने एक अद्भूत गिनीज वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनाया जिसमें वो करीब 8 घंटे 5 मिनट और 5 सैंकेड तक पानी स्थिर होकर खड़े रहें. ऐसे रिकॉर्ड जिनकी कोई कल्‍पना भी नहीं कर सकता है. इस बार एक बाबा इस मेले में अपने लिं’ग से ट्रक खींचकर सबको चौंका दिया है. ना’गा साधु ने अपने लिं’ग से इस भारीभरकम ट्रक को ही खींच डाला. इस साधु ने असामान्‍य स्‍’टं’ट करके सबको है’र’त में डाल दिया. आपको भरोसा नहीं होगा लेकिन ये सच है.

वहीं राजकुमार चक्रवर्ती ने एक रिकॉर्ड बनाया कि उन्‍होंने 11 घंटे 5 मिनट तक एक सबसे लम्‍बी स्थिर दीवार पर खड़े रहें. इस मेले कई ऐसे साधु इक्‍ट्ठे हुए और अपनी श’क्ति’यों का परिचय दे रहे हैं जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता है. माघ मेला जिस मेले की यहां बात हो रही है इसे माघ मेला कहा जाता है. हर साल इलाहाबाद में यह मेला होता है जो 45 दिनों तक चलता है. इतने दिनों तक देशभर से जुटे हुए भक्‍त यहां तिथि और मूहूर्त के अनुसार गंगा, यमुना और सरस्‍वती नदी की पूजा करते है. यहां हर साल ना’गा साधुओं की भीड़ देखी जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.