Categories
Other

मेट्रो में चोरी करने वाली महिला गैंग हुई गिरफ्तार, इस तरह से देती थीं वारदात को अंजाम

मेट्रो में चोरियों की वारदातें बहुत ज्यादा बढ़ गयी हैं. आजकल चोर मेट्रो जैसी भीड़-भाड़ वाली जगहों को चोरी करने के लिए निशाना बनाते हैं. भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ये चोरों के गिरोह अपना हाथ साफ़ करते हैं. इन चोरियों को अंजाम देने वाली ज्यादातार औरतें होती हैं. आज हम आपको एक ऐसे ही मामले के बारे में बताने जा रहे है जंहा एक चोरी करने वाली महिला गैंग को पुलिस ने गिरफ्तार किया हैं. आयिए इस पूरे मामले की जानकारी आपको विस्तार से बताते हैं.

दरअसल इस गैंग में चार महिलाएं हैं , जो अपने साथ बच्चों को लेकर चलती थी और बच्चे से उल्टी करवाने का नाटक कर के लोगों का ध्यान भटकाकर ऐसी वारदातों को अंजाम देती थी। पुलिस ने पकड़ी गयी महिला गैंग के कब्ज़े से 70 हज़ार रूपए और करीब 4 लाख के जेवरात भी बरामद किये हैं . इस महिला गैंग ने कनौटम प्लेस मेट्रो स्टेशन पर इस वारदात को अंजाम दिया था.

मेट्रो पुलिस उपायुक्त विक्रम पोरवाल ने बताया- कि पकड़ी गई महिलाओं की पहचान आनंद पर्वत निवासी विनिता, गायत्री, कविता और उमा के रूप में हुई हैं । 10 दिसंबर को इस चोरी से पीड़ित ने इसकी एफआईआर दर्ज करवाई थी । उन्होंने बताया की पीड़ित ने राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर बैग चोरी होने की शिकायत की थी , और उसने शिकायत में बताया कि बैग में 75 हजार रुपये और चार लाख के हीरे और सोने के जेवरात थे। 

सीसीटीवी कैमरे की जांच में पता चला की घटना के समय कोच में चार महिलाएं घुमती हुई नजर आई। पुलिस ने अपने मुखबिरों के जरिए महिलाओं की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था .

पूछताछ में इन महिलाओं ने बताया कि ये गैंग मेट्रो, बस, ट्रेन और बाकी भीड़- भाड़ वाली जगहों पर घटना को अंजाम देती हैं । उन्होंने ने बताया कि वह अपने साथ बच्चों को भी रखती थी , जिन्हें रूलाकर और उल्टी करवाकर वो लोगों का ध्यान भटकाती है और फिर गैंग की सदस्य यात्रियों के बैग को लेकर वंहा से फरार हो जाती हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.